ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहारNEET पेपर लीक: एक्शन में CBI, आज फिर 3 अधिकारी EOU ऑफिस पहुंचे; ADG से मिले, जानें अब तक क्या हुआ?

NEET पेपर लीक: एक्शन में CBI, आज फिर 3 अधिकारी EOU ऑफिस पहुंचे; ADG से मिले, जानें अब तक क्या हुआ?

नीट पेपर लीक की जांच सीबीआई ने तेज कर दी है। आज फिर सीबीआई के 3 अधिकारी ईओयू के ऑफिस पहुंचे। और एडीडी नैयर हसनैन से मुलाकात की। कल भी EOU ने सारे सबूत-दस्तावेज सौंपे थे।

NEET पेपर लीक: एक्शन में CBI, आज फिर 3 अधिकारी EOU ऑफिस पहुंचे; ADG से मिले, जानें अब तक क्या हुआ?
Sandeepलाइव हिन्दुस्तान,पटनाTue, 25 Jun 2024 04:37 PM
ऐप पर पढ़ें

नीट पेपर लीक मामले की जांच में जुटी सीबीआई अब एक्शन में आ गई है। आज दूसरी बार सीबीआई की टीम के तीन और अधिकारी पटना स्थित ईओयू के ऑफिस पहुंचे। और आर्थिक अपराध इकाई के एडीजी नैयर हसनैन से मुलाकात की। साथ ही कई जगहों पर जाकर जांच भी की है। इससे पहले सोमवार को दिल्ली आई दो सदस्यीय टीम ने ईओयू के अधिकारियों के साथ लंबी बैठक की थी। और सारे सबूत और दस्तावेज हासिल किए थे। 

सीबीआई को ईओयू ने 80 पेजों में दो एफआईआर की प्रति के अलावा 2 हजार से अधिक पृष्ठों में सभी दस्तावेज, साक्ष्य और फाइलें सुपुर्द कर दी हैं। इसके पहले सीबीआई की टीम पटना के स्थानीय सीबीआई कार्यालय से आईजी और एसपी रैंक के अधिकारियों को साथ लेकर पूर्वाह्न करीब 11 बजे ईओयू कार्यालय पहुंची। सीबीआई के अधिकारियों ने ईओयू के एडीजी से लेकर डीआईजी, एसपी रैंक के अधिकारियों से मुलाकात की और पूरे मामले की विस्तार से जानकारी प्राप्त की।

एडीजी और डीआईजी से अलग-अलग भी टीम ने मुलाकात की। ईओयू कार्यालय में बैठक के दौरान नीट पेपर लीक मामले में पहली छापेमारी एवं शुरुआती तफ्तीश करते हुए एफआईआर दर्ज करने वाले शास्त्रत्त्ीनगर थाने के प्रभारी को भी बुलाया गया था। इनसे भी सीबीआई टीम ने केस में की गई कार्रवाई की जानकारी हासिल की।

यह भी पढ़िए- नीट पेपर लीक में विजेंद्र गुप्ता ने किया लाइनर का काम, बीपीएससी शिक्षक बहाली धांधली में भी आ चुका है नाम

सूत्रों के अनुसार, सीबीआई की टीम ने ईओयू के उन दस्तावेजों और साक्ष्यों को खासतौर देखा एवं जानकारी ली, जिसके आधार पर प्रश्न-पत्र लीक होने की बात पुख्ता होती है। हजारीबाग के सेंटर से मिले साक्ष्य के बारे में विशेष तौर से जानकारी ली। संदिग्धों की गिरफ्तारी और जितने फरार चल रहे हैं, उनके बारे में भी जानकारी ली। संदिग्ध अभ्यर्थियों से की गई पूछताछ से संबंधित सभी दस्तावेज भी प्राप्त किए