DA Image
28 फरवरी, 2020|8:28|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मुजफ्फरपुर कांड: कलम से की काली कमाई, राजनीतिक व प्रशासनिक हलकों का बन बैठा चहेता

muzaffarpur shelter home case

बालिका गृह कांड में दोषी करार दिया गया मुख्य आरोपित ब्रजेश ठाकुर का तिलस्म पूरे जिले पर छाया था। छोटे अखबारों को संरक्षण देने की सरकारी नीति का उसने भरपूर फायदा उठाते हुए खूब कमाई की। अखबार के बूते प्रशासनिक महकमों में अपनी धौंस भी जमायी। इससे एक तरफ वह जिले की हर कल्याण योजना में दखल रखता था तो दूसरी ओर अपनी राजनीतिक महत्वाकांक्षा को भी उड़ान देता था।  काली कमाई से उसने राजनीतिक पैठ भी बना ली थी और कुढ़नी से विधायक का चुनाव भी लड़ चुका था।

राजनीतिक व प्रशासनिक हलकों में अपनी गहरी पैठ की वजह से अधिकारियों का चहेता बन गया था। जिले में एनजीओ के माध्यम से संचालित होने वाली तमाम योजनाएं उसकी झोली में जाती थीं। वह सेवा संकल्प एवं विकास समिति के निबंधन पर आधा दर्जन योजनाओं का संचालन किया करता था। राज्य सरकार के अनुदान से चलने वाली योजनाओं के अलावा कई उन अंतरराष्ट्रीय संस्थाओं की भी योजना का संचालन कर रहा था, जिसे सीधी फंडिंग होती थी।

खुला स्वाधार गृह का राज

सेवा संकल्प व विकास समिति के अधीन चलने वाली एक और संस्था में गड़बड़ी का खुलासा हुआ। साहू रोड के भारत माता लेन स्थित स्वधार गृह के कार्यालय में भी बालिका गृह का लेखाजोखा रखा जाता था। स्वधार गृह असहाय महिलाओं के लिए था। लेकिन, यहाँ जांच के दौरान टीम को महिलाएं नहीं मिलीं। तत्कालीन बाल संरक्षण इकाई के सहायक निदेशक दिवेश कुमार शर्मा ने महिला थाने में 11 महिलाएं व चार बच्चों की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई। इसकी जांच अभी महिला थाने के स्तर पर चल रही है।  

अनुदान की योजनाओं से चलती थी संस्था

सरकार से अनुदानित योजनाओं में वह बालिका गृह के अलावा खुला आश्रय, सहारा वृद्धाश्रम, अल्पावास गृह व महिला हेल्पलाइन का संचालन कर रहा था तो दूसरी ओर अंतरराष्ट्रीय संस्थाओं के अनुदान से एड्स नियंत्रण योजना का संचालन कर रहा था।

यह भी पढ़ें- मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड: चार साल में ब्रजेश की संस्था को मिला डेढ़ करोड़ अनुदान

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Muzaffarpur Shelter Home rape Case black money from pen Favorite in political and administrative circles