ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहारमुजफ्फरपुर के एलएस कॉलेज में प्रिंसिपल ने शिक्षक को मारा थप्पड़? वीडियो वायरल होने के बाद प्राचार्य ने दी सफाई

मुजफ्फरपुर के एलएस कॉलेज में प्रिंसिपल ने शिक्षक को मारा थप्पड़? वीडियो वायरल होने के बाद प्राचार्य ने दी सफाई

मुजफ्फरपुर के मशहूर एलएस कॉलेज के प्राचार्य द्वारा शिक्षक को थप्पड़ मारने का कथित वीडियो वायरल होने के बाद मामला चर्चा का विषय बन गया है। प्रिंसिपल ने सफाई देते हुए इस घटना से इनकार किया है।

मुजफ्फरपुर के एलएस कॉलेज में प्रिंसिपल ने शिक्षक को मारा थप्पड़? वीडियो वायरल होने के बाद प्राचार्य ने दी सफाई
Jayesh Jetawatहिन्दुस्तान,मुजफ्फरपुरTue, 25 Jun 2024 08:45 AM
ऐप पर पढ़ें

बिहार के मुजफ्फरपुर के एलएस कॉलेज का एक वीडियो वायरल हो रहा है। दावा किया जा रहा है कि कॉलेज के प्रिंसिपल ने एग्जाम के दौरान शिक्षक को थप्पड़ मार दिया। यह वीडियो 15 दिसंबर 2023 का है। हालांकि, प्रिंसिपल ओपी राय ने सफाई देते हुए कहा कि इस वीडियो में वे नहीं हैं। उन्होंने आरोप लगाए कि कॉलेज को बदमान करने के लिए कुछ लोगों ने यह साजिश की है। वीडियो में उनका चेहरा एआई के जरिए बदला गया है। यह मामला बीआरए बिहार यूनिवर्सिटी में भी चर्चा का विषय बना हुआ है। कुलपति ने इस मामले पर संज्ञान लिया और पीड़ित शिक्षक से जानकारी ली। उन्होंने बताया कि शिक्षक ने किसी भी तरह के अभद्र व्यवहार होने से इनकार किया है।

जानकारी के मुताबिक यह वीडियो पिछले साल 15 दिसंबर का है। कॉलेज में आयोजित बीपीएससी की शिक्षक बहाली परीक्षा के दौरान क्लासरूम में लगे सीसीटीवी कैमरे का फुटेज बताया जा रहा है। हालांकि, शिक्षक को थप्पड़ मारने के आरोप पर एलएस कॉलेज के प्राचार्य प्रो. ओपी राय ने सोमवार को कहा कि वह क्यों किसी पर हाथ उठाएंगे? वह तो परीक्षा में केंद्राधीक्षक भी नहीं थे। वह कॉलेज के उत्थान के लिए लगातार काम कर रहे हैं। उनके और कॉलेज के खिलाफ साजिश रची गई है। 

वहीं, वीडियो वायरल होने के बाद बीआरए बिहार यूनिवर्सिटी के कुलपति प्रो. दिनेश चंद्र राय ने पीड़ित शिक्षक को अपने दफ्तर बुलाया और उनसे सारी जानकारी ली। कुलपति ने बताया कि शिक्षक के अनुसार उनके साथ कोई अभद्र व्यवहार नहीं हुआ है। प्राचार्य को उन्होंने अभिभावक कहा है। वायरल वीडियो के सामने आने पर दिनभर विश्वविद्यालय में चर्चा का बाजार गर्म रहा। शिक्षक से लेकर कर्मचारी तक इस वीडियो पर चर्चा करते रहे। 

सोशल मीडिया पर भी इस वीडियो पर लोग कमेंट करते रहे। हालांकि, कुलपति ने कहा कि अगर शिक्षक को मारा गया है तो गलत है, ऐसा नहीं करना चाहिए था। कुलपति ने कहा कि जिस दिन का यह वीडियो बताया जा रहा है उस दौरान प्राचार्य को कंट्रोल रूम से फोन आया था कि केंद्र पर नकल हो रही है, इसके बाद वह वहां पहुंचे थे। वहीं, सोमवार देर शाम सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो में दिखाए जा रहे पीड़ित शिक्षक ने भी एक वीडियो जारी कर ऐसी किसी भी घटना से इनकार किया और इसे साजिश बताया है।