ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News बिहारछुट्टियों से खुश नहीं होंगे मुसलमान, मंत्री क्यों नहीं बनाते? नीतीश को बीजेपी ने घेरा

छुट्टियों से खुश नहीं होंगे मुसलमान, मंत्री क्यों नहीं बनाते? नीतीश को बीजेपी ने घेरा

बीजेपी विधायक नीरज बबलू ने स्कूलों की छुट्टियों के मुद्दे पर नीतीश सरकार को घेरते हए कहा कि छुट्टी से मुसलमान खुश नहीं होंगे। मुस्लिमों की आबादी के हिसाब से नीतीश मंत्री क्यों नहीं बनाते।

छुट्टियों से खुश नहीं होंगे मुसलमान, मंत्री क्यों नहीं बनाते? नीतीश को बीजेपी ने घेरा
Sandeepलाइव हिन्दुस्तान,पटनाWed, 29 Nov 2023 02:17 PM
ऐप पर पढ़ें

बिहार में स्कूली छुट्टियों पर मचा घमासान थमने का नाम नहीं ले रहा है। इस मुद्दे पर नीतीश सरकार के खिलाफ बीजेपी आक्रामक तेवर अपनाए हुए हैं। हिन्दुओं की छु्ट्टियों में कटौती और मुस्लिम की छुट्टियों में इजाफे को लेकर बीजेपी के नेता बिहार सरकार को घेरने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे। अब बीजेपी विधायक नीरज बबलू ने हमला बोला है। और कहा कि सिर्फ मुसलमानों को खुश करने का काम किया जा रहा है। इंडिया गठबंधन सिर्फ तुष्टिकरण की राजनीति करती है। 

नीरज बबलू ने कहा कि प्रदेश में मुसलमानों को खुश करने के लिए नए-नए नियम कानून बनाए जा रहे हैं। सीमांचल के इलाकों में मुस्लिमों के लिए रविवार को भी छुट्टी और शु्क्रवार की भी स्कूलों में छुट्टी रहेगी। लेकिन दूसरे लोगों के लिए ये नियम नहीं है। हिन्दुओं की छुट्टियां काटी जा रही हैं। और मुस्लिमों की छुट्टी बढ़ा दी गई है। नीतीश सरकार मुसलमानों को कितना खुश करेगी। ये लोग सिर्फ ठगने का काम कर रहे हैं। 

यही भी पढ़िए- हिंदू छात्रों को कम, मुस्लिमों को छुट्टियां ज्यादा; बिहार को क्या पाकिस्तान बनाना है? नीतीश पर बरसी बीजेपी

बीजेपी विधायक ने कहा कि छुट्टियों से मुसलमान खुश नहीं होंगे ये कहते हैं कि सबसे ज्यादा मुस्लिम हैं। आपने जातीय जनगणना कराई है। क्यों नहीं मुसलमानों को मंत्री बना रहे। क्यों नहीं डिप्टी सीएम बना रहे। ये लोग सिर्फ हिंदू और सनातन विरोधी हैं। और सनातनी को तंग करने का काम कर रहे हैं। आने वाले वक्त में सनातनी एक-एक चीज का हिसाब लेगा। इससे पहले बीजेपी के तमाम दिग्गज नेता इस मुद्दे पर नीतीश और तेजस्वी को घेरते आए हैं। 

आपको बता दें शिक्षा विभाग ने अगले साल 2024 के लिए सामान्य स्कूलों और उर्दू विद्यालयों के लिए अलग-अलग छुट्टी का कैलेंडर जारी किया है। सामान्य स्कूलों में हिंदू पर्व पर पांच अतिरिक्त छुट्टियां दी गई हैं। इन पांच छुट्टियों में महाशिवरात्रि, वसंत पंचमी, जन्माष्टमी, रामनवमी और चित्रगुप्त पूजा शामिल हैं। वहीं, उर्दू विद्यालयों में मुस्लिम के पर्व पर अतिरिक्त छुट्टियां दी गई हैं। उर्दू विद्यालयों में ईद और बकरीद के मौके पर तीन-तीन छुट्टियां दी गई हैं।

यह भी पढ़िए- स्कूलों में छुट्टी पर हिंदू मुस्लिम सियासत; सुशील मोदी नीतीश पर हमलावर, सम्राट चौधरी ने बताया तुगलकी फरमान

शिक्षा विभाग द्वारा पहली बार दो अलग-अलग अधिसूचना जारी की गई है। दोनों तरह के स्कूलों में छुट्टियों की कुल संख्या 60 ही है। वहीं, गर्मी की छुट्टी 30 दिनों की समान रूप से दोनों में रहेगी। सामान्य स्कूलों में भी रक्षाबंधन, तीज और जिउतिया पर मिलने वाली छुट्टी को अगले साल के लिए समाप्त कर दिया गया है।

विभाग ने यह भी साफ किया है कि गर्मी की छुट्टी सिर्फ छात्र-छात्राओं के लिए रहेगी। इस दौरान शिक्षक और गैर शैक्षणिक कर्मचारी अपने स्कूल में आएंगे। साथ ही इस दौरान शिक्षकों और अभिभावकों की बैठकें भी होंगी। राज्य में उर्दू विद्यालयों की संख्या करीब चार हजार हैं। शिक्षकों के लिए दिये गये निर्देश दोनों तरह के स्कूल में समान रूप से लागू रहेंगे।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें