ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News बिहारदेवर भाभी के अवैध संबंध में पत्नी की हत्या? तीन माह की प्रेग्नेंट थी मृतका, ससुराल वाले घर छोड़ फरार

देवर भाभी के अवैध संबंध में पत्नी की हत्या? तीन माह की प्रेग्नेंट थी मृतका, ससुराल वाले घर छोड़ फरार

मृतका की पहचान 22 वर्षीय प्रीति कुमारी के रूप में हुई है। उसकी शादी घोसरामा निवासी कमलेश यादव के साथ हुई थी। प्रीति की बहन स्वीटी ने बताया कि कमलेश यादव का अपनी भाभी के साथ नाजायज रिश्ता है।

देवर भाभी के अवैध संबंध में पत्नी की हत्या? तीन माह की प्रेग्नेंट थी मृतका, ससुराल वाले घर छोड़ फरार
Sudhir Kumarलाइव हिंदुस्तान,नवादाSun, 25 Feb 2024 01:09 PM
ऐप पर पढ़ें

बिहार के नवादा में एक तीन माह की गर्भवती विवाहिता का शव उसके कमरे से बरामद किया गया। इसके बाद ससुराल वाले फरार हो गए। बताया जा रहा है कि उसकी हत्या कर दी गई है।  विवाहिता के पति का उसकी भाभी से नाजायज संबंध है जिसका विरोध करती थी। मायके वालों ने आरोप लगाया है कि इसी कारण उसकी हत्या कर दी गई।  घटना कादिरगंज थाना के घोसरामा गांव की है।

ग्रामीणों ने विवाहिता की मौत की सूचना मायके वालों को दी। उन्होंने पुलिस को मौके पर बुलाया। कादिरगंज थाना पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। घटनास्थल से कुछ सबूत जुटाने के बाद पुलिस छानबीन कर रही है। कहा जा रहा है की गला दबाकर हत्या की गई।

मृतका की पहचान 22 वर्षीय प्रीति कुमारी के रूप में हुई है।  उसकी शादी घोसरामा निवासी कमलेश यादव के साथ हुई थी।  प्रीति की बहन स्वीटी ने बताया कि कमलेश यादव का अपनी भाभी के साथ नाजायज रिश्ता है। प्रीति को इसकी जानकारी मिल गई थी। इसलिए हमेशा विरोध करती थी। भाभी देवर के नाजायज रिश्ते को लेकर घर में लड़ाई झगड़ा भी होते रहते थे। परेशान करने के लिए कमलेश यादव प्रीति के पिता से दहेज की मांग करने लगा। इसी बीच प्रीति तीन माह के प्रेग्नेंट भी हो गई थी।  भाई भाभी ने मिलकर गला दबाकर उसकी हत्या कर दी। 

प्रीति के पिता राज किशोर सिंह बताया कि 3 साल पहले लड़की शादी हुई थी। उसी समय दहेज देकर दोनों का विवाह कराया गया था। लेकिन और पैसे की डिमांड कर रहे थे। उनकी बेटी की हत्या की गई है। इधर पुलिस का कहना है कि प्रिती परिजनों का बयान दर्ज किया जा रहा है। उसके आधार पर कार्रवाई होगी जिन्हें आरोपी बताया जा रहा है वह फरार हैं। परिजनों ने आरोपियों के खिलाफ ठोस कार्रवाई की मांग की है।
 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें