DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिहार के सभी सरकारी स्कूलों में सुबह की प्रार्थना अनिवार्य

Prayer in school

बिहार सरकार ने सरकारी स्कूलों में अनुशासन और समयबद्धता के पालन के उद्देश्य से छात्रों एवं कर्मचारियों के लिए लाउडस्पीकर के जरिए सुबह की प्रार्थना अनिवार्य कर दी है जिसमें राज्य गीत भी शामिल है। शिक्षा विभाग ने आदेश गत 9 अगस्त को जारी किया था। इसके तहत प्रदेश के सरकारी एवं सरकारी सहायता प्राप्त 76,000 से अधिक स्कूलों में तत्काल प्रभाव के साथ सुबह की प्रार्थना अनिवार्य कर दी गई है।

शिक्षा विभाग के प्रधान सचिव आर के महाजन ने बताया कि इसका उद्देश्य छात्रों एवं कर्मचारियों के बीच अनुशासन और समयबद्धता को बढ़ावा देना है। महाजन द्वारा जारी इस आशय के पत्र में चेतना सत्र अथवा प्रार्थना सभा को प्रदेश के सभी सरकारी एवं सरकारी सहायता प्राप्त स्कूलों (प्राथमिक, मध्य और माध्यमिक स्कूलों) में अनिवार्य किया गया है। महाजन ने बताया कि स्कूल के प्राचार्य लाउडस्पीकर सेट विकास निधि अथवा छात्र निधि से खरीद सकते हैं।

प्रार्थना सभा का आयोजन लाउडस्पीकर के जरिए किए जाने के उद्देश्य के बारे में पूछे जाने पर महाजन ने बताया कि इसके इस्तेमाल से स्कूल के आसपास रहने वाले छात्रों को कक्षा प्रारंभ होने के बारे में पता चल जाएगा और वे उसमें समय पर भाग ले सकेंगे। इस प्रार्थना सभा में शामिल किए गए बिहार गीत में ''मेरी रफ्तार में सूरज की किरण नाज करें..." और "तू ही राम है, तू रहीम है" शामिल है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Morning prayers mandatory for all government schools in Bihar