ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहारलोकसभा जीतकर मीसा भारती के हौसले बुलंद, बोलीं- पार्टी देगी तो और जिम्मेदारी उठाने को तैयार

लोकसभा जीतकर मीसा भारती के हौसले बुलंद, बोलीं- पार्टी देगी तो और जिम्मेदारी उठाने को तैयार

पाटलिपुत्र से लोकसभा चुनाव जीतने के बाद आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की बेटी मीसा भारती ने कहा कि अगर पार्टी चाहेगी तो वह और जिम्मेदारियां उठाने को तैयार हैं।

लोकसभा जीतकर मीसा भारती के हौसले बुलंद, बोलीं- पार्टी देगी तो और जिम्मेदारी उठाने को तैयार
Jayesh Jetawatहिन्दुस्तान टाइम्स,पटनाWed, 05 Jun 2024 11:44 PM
ऐप पर पढ़ें

बिहार की पाटलिपुत्र लोकसभा सीट से चुनाव जीतने के बाद आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की बड़ी बेटी मीसा भारती के हौसले बुलंद हैं। मीसा ने कहा कि वह अपनी पार्टी राष्ट्रीय जनता दल में नई जिम्मेदारी उठाने को तैयार हैं। अगर पार्टी नेतृत्व चाहेगा तो वह नई भूमिका में आ सकती हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि वह अपने संसदीय क्षेत्र के विकास के लिए ज्यादा से ज्यादा काम करेंगी। मीसा भारती ने 2014 और 2019 में भी पाटलिपुत्र से चुनाव लड़ा था लेकिन उन्हें दो बार हार का सामना करना पड़ा। तीसरी बार में उन्होंने बीजेपी के रामकृपाल यादव को हरा दिया।

मीसा भारती ने बुधवार को मीडिया से बातचीत में कहा कि यह पाटलिपुत्र के लोगों की जीत है। आरजेडी में बड़ी भूमिका मिलने के सवाल पर मीसा ने कहा कि उन्होंने हमेशा पार्टी के लिए काम किया है। अगर उन्हें और जिम्मेदारियां मिलती हैं, तो उन्हें स्वीकार करेंगे। उन्होंने लोकसभा चुनाव के नतीजों पर कहा कि जनता ने इंडिया गठबंधन में विश्वास दिखाया है। उनके छोटे भाई और पूर्व डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव के 17 महीने की महागठबंधन सरकार में किए गए कामों पर भी लोगों ने भरोसा दिखाया। 

रोहिणी आचार्या को लक्ष्मण यादव ने हरवाया, जानिए कैसे राजीव प्रताप रूडी जीते

आरजेडी के लिए पाटलिपुत्र सीट पर जीत कई मायने में अहम है। 2009 में खुद लालू यादव इस सीट से चुनाव लड़े थे और उन्हें हार का सामना करना पड़ा था। इसके बाद लगातार दो चुनावों में उनकी बेटी मीसा को हार मिली। अब मीसा ने 2024 में यह सीट जीतकर पार्टी में अपना कद बड़ा कर दिया है। 

2024 के लोकसभा चुनाव में मीसा भारती ने बीजेपी के रामकृपाल यादव को 85174 वोटों के अंतर से हराया। दो बार से सांसद रहे रामकृपाल को 5.28 लाख वोट मिले, जबकि मीसा ने 6.13 लाख वोट हासिल किए। बता दें कि मीसा भारती अभी आरजेडी की राज्यसभा सांसद हैं। वह राज्यसभा से इस्तीफा देकर अब लोकसभा जाएंगी।