ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News बिहारफ्लोर टेस्ट में कई विधायक क्रॉस वोटिंग करेंगे; अब जीतनराम मांझी की पार्टी का बड़ा दावा

फ्लोर टेस्ट में कई विधायक क्रॉस वोटिंग करेंगे; अब जीतनराम मांझी की पार्टी का बड़ा दावा

बिहार विधानसभा में नीतीश सरकार के 12 फरवरी को होने वाले फ्लोर टेस्ट से पहले जीतनराम मांझी की पार्टी ने बड़ा दावा किया है। संतोष सुमन ने कहा कि कई विधायक क्रॉस वोटिंग करेंगे।

फ्लोर टेस्ट में कई विधायक क्रॉस वोटिंग करेंगे; अब जीतनराम मांझी की पार्टी का बड़ा दावा
Jayesh Jetawatहिन्दुस्तान,पटनाFri, 09 Feb 2024 08:40 PM
ऐप पर पढ़ें

बिहार में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व वाली एनडीए सरकार के बहुमत परीक्षण से पहले राजनीति गर्माई हुई है। आरजेडी ने फ्लोर टेस्ट के दिन खेला होने का दावा किया है। वहीं, अब पूर्व सीएम जीतनराम मांझी की पार्टी हिन्दुस्तान आवाम मोर्चा (HAM) ने विपक्ष पर पलटवार करते हुए बड़ा दावा कर दिया है। जीतनराम के बेटे एवं HAM के राष्ट्रीय अध्यक्ष संतोष सुमन मांझी ने कहा कि फ्लोर टेस्ट के दौरान महागठबंधन के दर्जनों विधायक क्रॉस वोटिंग करेंगे। सदन में एनडीए को 128 से ज्यादा वोट मिलेंगे।

नीतीश सरकार में मंत्री संतोष कुमार सुमन ने शुक्रवार को कहा कि जो लोग खेला होने की रट लगा रहे हैं, उन्हें नींद से जागने की जरूरत है। बिहार की जनता ने कब का उनके साथ खेला कर दिया था। इस बार एनडीए ने उन्हें क्लीन बोल्ड कर दिया है। अब जो लोग मैदान से बाहर हैं, वे केवल शोर ही मचा सकते हैं, खेला नहीं कर सकते। जो विधायकों को तोड़ने का दंभ भर रहे हैं, दरअसल ये लोग अपने विधायकों की टूट को बचा नहीं पाएंगे। संतोष ने कहा कि हमारी सरकार विश्वास मत के दिन 128 से ज्यादा वोट हासिल करेगी। महागठबंधन के दर्जनों विधायक क्रॉस वोटिंग करेंगे।

वहीं, HAM सुप्रीमो जीतनराम मांझी ने कहा कि उनके लिए सत्ता की कुर्सी कोई मायने नहीं रखती है। वे बस गरीबों एवं पिछड़े लोगों को हक की आवाज उठाने के हिमायती हैं। वह कुर्सी के लालच में किसी को धोखा नहीं दे सकते हैं। उन्होंने स्पष्ट किया कि वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और एनडीए के साथ हैं और आगे भी रहेंगे।

बता दें कि बिहार विधानसभा में एनडीए सरकार का बहुमत परीक्षण 12 फरवरी को होगा। आंकड़ों पर नजर डालें तो बीजेपी, जेडीयू और HAM और एक निर्दलीय विधायक को मिलाकर एनडीए के पास 128 सदस्यों का समर्थन है। 243 सदस्यों वाली विधानसभा में बहुमत के लिए 122 विधायकों की जरूरत होती है। हालांकि, आरजेडी के नेताओं ने दावा किया है कि बिहार में अभी खेला होना बाकी है। वहीं, अब एनडीए के नेता महागठबंधन के विधायकों के क्रॉस वोटिंग का दावा कर रहे हैं।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें