DA Image
हिंदी न्यूज़ › बिहार › महिला का अपहरण करके महीनों किया रेप, जबरन खिलाया गोमांस, धर्म परिवर्तन का बनाया दबाव, पुलिस के हत्थे चढ़ा आरोपी
बिहार

महिला का अपहरण करके महीनों किया रेप, जबरन खिलाया गोमांस, धर्म परिवर्तन का बनाया दबाव, पुलिस के हत्थे चढ़ा आरोपी

एक संवाददाता,बलुआ बाजारPublished By: Sneha Baluni
Sun, 05 Sep 2021 10:06 AM
महिला का अपहरण करके महीनों किया रेप, जबरन खिलाया गोमांस, धर्म परिवर्तन का बनाया दबाव, पुलिस के हत्थे चढ़ा आरोपी

बिहार के सुपौल में एक महिला के साथ रेप के साथ-साथ गोमांस खिलाने का ऐसा मामला सामने आया है, जिसे लेकर इलाके में हड़कंप मच गया है। भीमपुर थाना क्षेत्र की एक महिला का अपहरण कर युवक ने महीनों तक यौन शोषण किया। इस दौरान महिला को गोमांस मांस खिलाकर जबरन धर्म परिवर्तन करने का दबाव भी देता रहा। जान से मारने की धमकी भी दी। शनिवार को किसी तरह महिला ने अपने परिजनों को सूचना दी।

इसके बाद परिजन अन्य लोगों के साथ फारबिसगंज रेलवे स्टेशन पहुंचे और वहां से महिला को बरामद किया। परिजनों ने आरोपी को पकड़कर भीमपुर थाना पुलिस के हवाले कर दिया है। पुलिस को दिए आवेदन में महिला ने कहा है कि 30 जून की शाम करीब 7 बजे वह घर से बांसवाड़ी में शौच के लिए गई थी। 

इसी क्रम में चापीन वार्ड 13 निवासी मोहम्मद कलीम ने उसे पकड़ लिया। मुंह और आंख पर कपड़ा बांधकर उसे गाड़ी में लेकर जाने लगा। जब उसकी आंख खुली तो वह एक कमरे में थी। उसके बाद कलीम लगातार उसका यौन शोषण करता रहा। धर्म परिवर्तन का दबाव देते हुए ऐसा नहीं करने पर जान से मारने की धमकी दी।

शनिवार को उसे किसी तरह पता चला कि जिस जगह उसे रखा गया है वह फारबिसगंज है। उसने किसी तरह यह सूचना अपने परिजनों को दी। इसकी भनक भी कलीम को लग गई। इसके बाद युवक उसे कहीं दूसरी जगह ले जाने लगा। इसी बीच उसके परिजन वहां पहुंच गए और फारबिसगंज रेलवे स्टेशन पर कलीम को पकड़ लिया।

उन्होंने कलीम को लाकर पुलिस को सौंप दिया। भीमपुर थानाध्यक्ष सुबोध कुमार ने बताया कि महिला के आवेदन पर केस दर्ज किया गया है। गिरफ्तार आरोपी युवक को जेल भेजने की कार्यवाही की जा रही है। उधर, एक धार्मिक संगठन के जिला मंत्री मुकेश यादव ने कहा है कि महिला की बरामदगी और आरोपी को पकड़ने में उनके संगठन की महत्वपूर्ण भूमिका रही। उन्होंने बताया कि विशेष पक्ष द्वारा साजिश के तहत यह अभियान चलाया जा रहा है। इसमें दूसरे पक्ष की लड़की और महिलाओं को निशाना बनाया जा रहा है ऐसे आरोपियों को सख्त से सख्त सजा मिलनी चाहिए।

संबंधित खबरें