ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहारनचनिया-गवनिया को मुंबई भेजिए; उपेंद्र कुशवाहा का राजपूत वोट मैनेज करने उतरीं लवली आनंद

नचनिया-गवनिया को मुंबई भेजिए; उपेंद्र कुशवाहा का राजपूत वोट मैनेज करने उतरीं लवली आनंद

लवली आनंद ने नाम लिए बगैर पवन सिंह को नचनिया गवानिया करार दिया और उपेंद्र कुशवाहा को राजनीति का अनुभवी और माहिर खिलाड़ी बताया। कुशवाहा के लिए राजपुत वोट मैनेज करने के लिए काराकाट में पसीना बहा रही हैं

नचनिया-गवनिया को मुंबई भेजिए; उपेंद्र कुशवाहा का राजपूत वोट मैनेज करने उतरीं लवली आनंद
Sudhir Kumarलाइव हिन्दुस्तान,सासारामThu, 30 May 2024 03:01 PM
ऐप पर पढ़ें

बिहार के काराकाट लोक सभा सीट पर अंतिम चरण में 1 जून को वोटिंग होना है। भोजपुरी स्टार पवन सिंह की मैदान में मौजूदगी से मुकाबला काफी दिलचस्प हो गया है।  खासकर एनडीए के कैंडिडेट उपेंद्र कुशवाहा के सामने बड़ी चुनौती है क्योंकि राजपूत डोमिनेटेड काराकाट में पवन सिंह एनडीए के वोट बैंक में ही सेंध लगाने की जुगत में हैं।  यही वजह है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह, सीएम नीतीश कुमार समेत एनडीए के कई बड़े नेताओं ने काराकाट में चुनावी सभाएं की। अब आनंद मोहन की पत्नी और पूर्व सांसद लवली आनंद उपेंद्र कुशवाहा के लिए राजपुत वोट मैनेज करने उतर गई हैं। अपना कठिन दौर याद करते हए उन्होंने काराकाट की जनता से इमोशनल अपील की। उपेंद्र कुशवाहा के खिलाफ महागठबंधन से लेफ्ट पार्टी के राजाराम कुशवाहा चुनाव लड़ रहे हैं।

एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए लवली आनंद ने नाम लिए बगैर पवन सिंह को नचनिया गवानिया करार दिया और उपेंद्र कुशवाहा को राजनीति का अनुभवी और माहिर खिलाड़ी बताया।  लवली आनंद ने कहा कि उपेंद्र कुशवाहा एमएलए बने, लोकसभा गए, राज्यसभा गए, एमएलसी भी बने, केंद्र में मंत्री रहे, बिहार में नेता प्रतिपक्ष की भूमिका में रहे।  इतने पदों पर काम करने का अनुभव किसी प्रतिद्वंद्वी के पास नहीं है। उपेंद्र कुशवाहा सबसे बेहतर उम्मीदवार हैं। 

नरेंद्र मोदी की साधना पर सियासत, तेजस्वी ने की प्रसारण पर रोक लगाने की मांग, कहा-मार्केटिंग कर रहे

पवन सिंह के बारे में नाम लिए बगैर लवली आनंद ने कहा कि यह राजनीति है नाचने गाने का चीज नहीं है।  उनका काम मुंबई में होता है। काराकाट में इसका क्या काम?  नचनिया गवानिया सेवा नहीं कर सकता। हम तमाम लोगों से कहना चाहते हैं कि नचनिया गवनिया जो आए हैं उन्हें मुंबई भेज दीजिए। उनके लिए काराकाट धरती सही नहीं है। लवली आनंद ने कहा कि आनंद मोहन जी का भी यही संदेश है।  

पुराने दिनों को याद करते हुए उन्होंने काारकाट की जनता से इमोशनल अपील की और कहा कि जब हमारा कठिन दौड़ चल रहा था तो उपेंद्र कुशवाहा जी ने ही हमारा साथ दिया। और कोई आगे नहीं आया। आनंद मोहन जी के साथ उनका संबंध बड़े और छोटे भाई की तरह है जो राजनीति से ऊपर है।  उनसे पारिवारिक रिश्ते हैं इसलिए बिना किसी भ्रम में पड़े उपेंद्र कुशवाहा जी को वोट दीजिए और उन्हें ज्यादा से ज्यादा मतों के अंदर से जिताईए आनंद मोहन भी यही चाहते हैं।

नीतीश कुमार की पार्टी जेडीयू के टिकट पर  शिवहर लोकसभा सीट चुनाव लड़ रही लवली आनंद ने कहा कि शिवहर में लव कुश समाज के लोगों ने हमारा पूरा साथ दिया है। हमको उनका जमकर वोट पड़ा है।  उनका हम पर कर्ज  है।  अब अब हमें यहां काराकाट में उपेंद्र कुशवाहा जी का साथ देना है और उन्हें गैस सिलेंडर छाप पर वोट देकर भारी मतों से विजयी बनाना है।