ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News बिहारपहले चरण में बिहार की 4 सीटों पर 38 कैंडिडेट, नवादा में निर्दलीय गुंजन सिंह बिगाड़ सकते हैं खेल

पहले चरण में बिहार की 4 सीटों पर 38 कैंडिडेट, नवादा में निर्दलीय गुंजन सिंह बिगाड़ सकते हैं खेल

बिहार में लोकसभा चुनाव के पहले चरण में चार सीटों पर मतदान होना है, नामांकन वापसी के बाद चारों सीटों पर कुल 38 कैंडिडेट मैदान में हैं। सबसे ज्यादा गया में 14 प्रत्याशी चुनाव लड़ रहे हैं।

पहले चरण में बिहार की 4 सीटों पर 38 कैंडिडेट, नवादा में निर्दलीय गुंजन सिंह बिगाड़ सकते हैं खेल
Jayesh Jetawatहिन्दुस्तान,पटनाWed, 03 Apr 2024 08:20 AM
ऐप पर पढ़ें

लोकसभा चुनाव 2024 के पहले चरण में बिहार की चार लोकसभा सीटों जमुई, गया, नवादा और औरंगाबाद पर 19 अप्रैल को मतदान होना है। मंगलवार को नाम वापसी के बाद प्रत्याशियों की फाइनल लिस्ट आ गई है। चार सीटों पर कुल 38 प्रत्याशी मैदान में हैं। गया, औरंगाबाद और जमुई में मुख्य मुकाबला एनडीए और महागठबंधन के बीच ही होता नजर आ रहा है। वहीं, नवादा में निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में चुनाव लड़ रहे भोजपुर-मगही सिंगर गुंजन कुमार सिंह एनडीए और महागठबंधन का खेल बिगाड़ सकते हैं। 

पहले चरण में गया लोकसभा सीट पर सबसे ज्यादा 14 प्रत्याशी मैदान में हैं। यहां एनडीए से HAM संरक्षक जीतनराम मांझी तो महागठबंधन से आरजेडी नेता कुमार सर्वजीत ने नामांकन किया है। साथ ही बसपा एवं अन्य क्षेत्रीय दलों के अलावा 7 निर्दलीय भी ताल ठोक रहे हैं। औरंगाबाद में बीजेपी के सुशील कुमार सिंह और आरजेडी के अभय कुशवाहा समेत 9 प्रत्याशी मैदान में हैं। जमुई से आरजेडी की अर्चना कुमारी और लोजपा रामविलास के अरुण भारती समेत कुल 7 कैंडिडेट चुनाव लड़ रहे हैं।

नवादा में बीजेपी के विवेक ठाकुर और आरजेडी के श्रवण कुमार समेत 8 प्रत्याशियों के बीच मुकाबला होना है। इसमें भोजपुरी स्टार गुंजन कुमार भी शामिल हैं। गुंजन बीजेपी से टिकट नहीं मिलने पर निर्दलीय मैदान में उतरे हैं। उनके नामांकन में यूट्यूबर मनीष कश्यप भी पहुंचे थे। एनडीए के साथ ही महागठबंधन के वोटों में वे सेंधमारी कर सकते हैं।

पहले चरण की चारों सीटों पर बसपा भी चुनाव लड़ रही है। इसके अलावा बिहार में असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी AIMIM ने भी कुछ सीटों पर कैंडिडेट उतारने की घोषणा की है। हालांकि, पहले चरण में ओवैसी की पार्टी के किसी उम्मीदवार ने नामांकन नहीं किया। नवादा को छोड़कर पहले चरण की शेष सभी सीटों पर प्रत्याशियों को चुनाव चिह्न भी आवंटित कर दिए गए हैं। नवादा के जिला पदाधिकारी का तबादला होने से चुनाव चिह्न का आवंटन नहीं हो पाया। इसके लिए राज्य निर्वाचन कार्यालय को प्रस्ताव भेजा गया है। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें