DA Image
3 अगस्त, 2020|2:27|IST

अगली स्टोरी

रेलवे का बड़ा फैसला, झारखंड के बाद अब बिहार के लिए जयपुर से चली स्पेशल ट्रेन

लॉकडाउन के दौरान बिहार के लोग गैर प्रांत में फंसे है। इस दौरान बिहार के लोगों को राहत देने के लिए जयपुर से पटना के लिए स्पेशल ट्रेन शुक्रवार की रात दस बजे रवाना हुई। इसमें लगभग 11 सौ लोग सवार है। स्पेशन ट्रेन के शनिवार की सुबह 9:10 बजे पीडीडीयू जंक्शन पर पहुंचते ही सवार यात्रियों को भोजन व पानी दी जाएगी। इसके लिए रेल प्रशासन तैयारी में जुट गया है। 

कोरोना संक्रमण बढ़ने पर देशभर में लॉकडाउन कर दिया गया था। इस दौरान बिहार के हजारों लोग राजस्थान सहित कई प्रांत में फंस गये है। इस दौरान राजस्थान में फंसे बिहार के लोगों को राहत देते रेल प्रशासन ने स्पेशल ट्रेन चला रहा है। इस क्रम में गुरुवार की रात दस बजे जयपुर से लगभग 11 सौ यात्रियों को लेकर स्पेशल ट्रेन पटना के लिए रवाना हुई। स्पेशल ट्रेन के पीडीडीयू जंक्शन पर शनिवार की सुबह 9:10 बजे पहुंचते ही रेल प्रशासन सभी यात्रियों को खाना व पानी की प्रबंध करेगा। इसके बाद ट्रेन पटना के लिए रवाना हो जाएगी। 

अन्य यात्री स्पेशल ट्रेन में नहीं होंगे सवार 
बिहार के लोगों को लेकर आ रही स्पेशल ट्रेन में कोई यात्री सवार नहीं होगा। जयपुर से रवाना होने के बाद बांदीकुई, आगरा फोर्ट, टुंडला, कानपुर, डीडीयू के बाद पटना स्टेशन पर ठहराव है। इस दौरान किसी भी स्टेशन पर ट्रेन में कोई सवार नहीं होगा। नाही उतरेगा। हालांकि पीडीडीयू जंक्शन पर लोको पायलट व गार्ड बदले जाएंगे। इस दौरान विभागीय अधिकारी व कर्मचारियों के अलावा जीआरपी,आरपीएफ के जवान मुस्तैद रहेंगे। 

रुपेश कुमार, सीनियर डीसीएम, पीडीडीयू रेल मंडल कहते हैं कि स्पेशल ट्रेन में सवार सभी यात्रियों के लिए भोजन का प्रबंध किया गया है। जयपुर से रवाना होकर स्पेशल ट्रेन सुबह 9:10 बजे पीडीडीयू जंक्शन पर पहुंचेंगी। इसके लिए तैयारी लगभग पूरी कर ली गई है।
 

सुशील मोदी कर चुके हैं स्पेशल ट्रेन की मांग

बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने गुरुवार को केंद्र सरकार से अपने प्रवासियों को वापस लाने के लिए स्पेशल ट्रेन चलाने की गुहाल लगाई थी। सुशील मोदी ने गुरुवार को ट्वीट किया था, 'मैं विशेष ट्रेन से प्रवासियों की घर वापसी के लिए भारत सरकार से अपील करता हूं।' इसके अलावा, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भी प्रवासियों की घर वापसी के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चिट्ठी लिखी है।

केंद्र सरकार ने गाइडलाइंस में बदलाव करते हुए छात्रों, मजदूरों और तीर्थ यात्रियों के वापसी के लिए लॉकडाउन में ढील देने की घोषणा की थी। गृह मंत्रालय ने कहा था कि राज्य सरकारें आपसी तालमेल के साथ बसों से इन लोगों को अपने गृह राज्य पहुचाए। इसके बाद बिहार सरकार की तरफ से मांग की गई थी कि प्रवासी श्रमिकों और छात्रों की वापसी के लिए विशेष ट्रेन चलाई जाए ताकि हम बिहार के लोगों को वापस ला सके। केंद्र सरकार ने अब इस काम के लिए ट्रेन चलाने की इजाजत दे दी है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:lockdown train running for jharkhand Migrant Labourers from bihar wait no plan no preparation to run the train yet for bihar East Central Railway CPRO Rajesh Kumar