DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शराब धंधेबाजों को ताकतवर लोगों की भी मदद : नीतीश

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि बिहार में शराब के धंधेबाजों को कुछ ताकतवर लोगों की भी मदद मिल रही है। इसके बारे में ज्यादा नहीं कहेंगे कि ये कौन लोग हैं लेकिन कोई भी अपराध करेगा तो बचेगा नहीं। हमारा संकल्प है कि हम न किसी को फंसाते हैं न किसी को बचाते हैं।

मुख्यमंत्री पटना में आयोजित 'बिहार-झारखंड कॉन्क्लेव- द न्यू रोड मैप' कार्यक्रम में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि कानून के कुछ रक्षक भी इस धंधेबाजी में शरीक हो जाते हैं। सभी पर कार्रवाई होती है और जेल जाते हैं। बर्खास्त भी होते हैं। चंद लोग शराबबंदी के खिलाफ हैं तो खिलाफ रहें लेकिन आम लोगों के मन में इससे खुशी है। हमारा संकल्प काम करने का है। कौन क्या बोलता है, इस पर हम ध्यान नहीं देते। वर्षों से बिहार के हित में काम कर रहे हैं, चाहे वह कानून का राज स्थापित करना हो या बुनियादी ढांचे के विकास हो। सड़कें बहुत कम थीं, जो थीं वो भी बहुत खराब स्थिति में। हमलोगों ने सड़कों का निर्माण कराया। प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना से आगे जाकर कम बसावट वाले टोलों को जोड़ने के लिए मुख्यमंत्री ग्राम संपर्क योजना की शुरुआत की। राज्य की सड़कों को दुरुस्त किया। राष्ट्रीय राजमार्ग की भी स्थिति ठीक नहीं थी। इसमें राज्य की धनराशि लगाकर ठीक कराया गया। चाहे शिक्षा, स्वास्थ्य, बिजली हो या सड़क और पुल-पुलिया हो, हर क्षेत्र में काम हुआ।  

केंद्र का सहयोग मांगा 
उन्होंने कहा कि बिहार लैंड-लॉक स्टेट है। उद्योग तो ज्यादा समुद्र के किनारे लगता है। इसलिए बिहार में पूंजी निवेश के लिए प्रोत्साहन नीति बनाते हैं। लेकिन, जबतक केंद्र का सहयोग नहीं मिलेगा, इसमें अपेक्षित सफलता नहीं मिलेगी। इसलिए तो हम हमेशा विशेष राज्य के दर्जे की बात करते हैं। ताकि बिहार में कोई निवेश करे तो केंद्रीय करों में राहत मिले। केंद्रीय योजना में राज्य का शेयर घटना चाहिए।  

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:liquor businessmen are supported by powerful people people says nitish kumar