ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहारमुझे जितनी गालियां देनी हो दीजिए, लेकिन... जहानाबाद गोलीकांड पर जीतन मांझी का CM नीतीश पर तंज

मुझे जितनी गालियां देनी हो दीजिए, लेकिन... जहानाबाद गोलीकांड पर जीतन मांझी का CM नीतीश पर तंज

जहानाबाद गोलीकांड पर हम के संस्थापक जीतन मांझी ने सीएम नीतीश पर हमला बोला है। और कहा मुख्यमंत्री जी मुझे जितनी गालियां देनी हो दीजिए, लेकिन बिहारियों पर रहम कीजिए। बिहार को जंगलराज से मुक्त कीजिए

मुझे जितनी गालियां देनी हो दीजिए, लेकिन... जहानाबाद गोलीकांड पर जीतन मांझी का CM नीतीश पर तंज
Sandeepलाइव हिन्दुस्तान,पटनाSun, 12 Nov 2023 10:45 AM
ऐप पर पढ़ें

हम के संस्थापक और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने एक बार फिर से सीएम नीतीश पर निशाना साधा है। जहानाबाद गोलीकांड पर नीतीश सरकार को घेरते हुए हमला बोला है। उन्होने कहा कि मुख्यमंत्री जी मुझे जितनी गालियां देनी हो दे दीजिए, लेकिन बिहारियों पर रहम कीजिए, बिहार को महाजंगल राज से मुक्त कीजिए।

दरअसल जहानाबाद में भवन निर्माण विभाग के सहायक अभियंता कुमुद रंजन को बदमाशों ने गोली मारकर लूट को अंजाम दिया था। गंभीर हालत में उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है।कुमुद रंजन हम के राष्ट्रीय सचिव पम्पी शर्मा के बेटे हैं। इसी घटना पर नीतीश सरकार को घेरते हुए मांझी ने अपने एक्स हैंडल पर लिखा कि हमारे बेहद नजदीकी HAM के राष्ट्रीय सचिव पम्पी शर्मा जी के बेटे कुमुद कुमार को जहानाबाद में अपराधियों ने तबाड़तोड़ तीन गोली मार दी है जिससे उनकी स्थिति नाजुक बनी हुई है। मुख्यमंत्री जी मुझे जितनी गालियां देनी हो दे दिजिए पर बिहारियों पर रहम किजिए,बिहार को महाजंगल राज से मुक्त किजिए।

बदमाशों ने घटना को उस वक्त अंजाम दिया। जब शनिवार की शाम करीब साढ़े छह बजे लुटेरों ने भवन निर्माण विभाग के सहायक अभियंता कुमुद रंजन (42 वर्ष) को गोली मार दी। अपराधियों ने इंजीनियर की बाइक, मोबाइल फोन, पर्स और बैग भी लूट लिये। उन्हें तीन गोलियां मारी गई हैं। सदर अस्पताल में प्राथमिक उपचार के बाद उन्हें गंभीर हालत में पटना रेफर किया गया है।

इससे पहले जीतन मांझी पर विवादित बयान को लेकर पीएम मोदी ने भी सीएम नीतीश पर निशाना साधा। तेलंगानी की एक सभा में उन्होने कहा कि दो दिन पहले बिहार में हमने देखा है कि विधानसभा में सदन के अंदर एक और दलित नेता, एक पूर्व मुख्यमंत्री का अपमान किया गया है। जीतन राम मांझी जो दलितों में भी अति दलित हैं, जिन्होंने अपने जीवन में बहुत ही संघर्ष किया है। उनको बिहार के सीएम ने बुरी तरह अपमानित किया।

उन्होने कहा कि जीतन बाबू को जताने की कोशिश की गई कि वो सीएम पद के योग्य नहीं थे। ये अहंकार की भावना, दलितों के अपमान की भावना कांग्रेस और उसके सहयोगियों की पहचान है। जिसके बाद मांझी ने पीएम मोदी को धन्यवाद देते हुए कहा कि आपके स्नेह और अपनापन ने हमेशा मुझे शक्ति दी है। दलितों/वंचितों के प्रति आपकी निष्ठा अद्वितीय है, आपका स्नेह मुझपर और समस्त दलितों/वंचितों पर हमेशा बना रहे।