ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News बिहारलालू यादव ने सीबीआई कोर्ट में जमा कराया अपना पासपोर्ट, चारा घोटाला का है मामला

लालू यादव ने सीबीआई कोर्ट में जमा कराया अपना पासपोर्ट, चारा घोटाला का है मामला

दरअसल चारा घोटाला में दोषी करार दिये जाने के बाद लालू प्रसाद यादव का पासपोर्ट सीबीआई की विशेष अदालत ने जमा करा लिया था लालू प्रसाद यादव ने पासपोर्ट की अवधि समाप्ती का हवाला देकर पासपोर्ट रिलीज कराया।

लालू यादव ने सीबीआई कोर्ट में जमा कराया अपना पासपोर्ट, चारा घोटाला का है मामला
Sudhir Kumarहिंदुस्तान,पटनाThu, 25 Jan 2024 05:13 PM
ऐप पर पढ़ें

चारा घोटाला से जुड़ी अहम खबर है। इसके अलग-अलग मामलों में सजायाफ्ता RJD के राष्ट्रीय अध्यक्ष और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव ने CBI कोर्ट में अपना पासपोर्ट जमा करा दिया है।  लालू यादव के अधिवक्ता अनंत कुमार विज ने CBI कोर्ट के स्पेशल जज विशाल श्रीवास्तव की कोर्ट में लालू यादव का पासपोर्ट जमा कराया।

दरअसल चारा घोटाला में दोषी करार दिये जाने के बाद लालू प्रसाद यादव का पासपोर्ट सीबीआई की विशेष अदालत ने जमा करा लिया था लालू प्रसाद यादव की ओर से पासपोर्ट की अवधि समाप्त होने का हवाला देते हुए रिन्यूएल करने के लिए पासपोर्ट रिलीज करने की मांग की गयी थी।  पिछले वर्ष जून महीने में लालू प्रसाद यादव की याचिका पर सुनवाई करते हुए कोर्ट ने पासपोर्ट रिलीज करने का आदेश दे दिया था।  कोर्ट ने शर्त रखी थी कि पासपोर्ट रिन्यू होने के बाद वह वापस अपना पासपोर्ट सीबीआई कोर्ट को सौंप देंगे। इसलिए लालू यादव ने पासपोर्ट रिन्यू होने के बाद उसे CBI कोर्ट में जमा कर दिया।

बता दें कि लालू यादव के  मुख्यमंत्री रहते अविभाजित बिहार में बड़ा चारा घोटाला हुआ था जिसमें मुख्यमंत्री रहते लालू यादव को जेल जाना पड़ा था। उन्होंने पत्नी राबड़ी देवी को अपने बिहार का मुख्यमंत्री बना दिया। उन्हें काफी दिनों तक जेल में रहना पड़ा। चारा घोटाले के सभी मामलो में लालू यादव को सजा हुई। कुछ मामलों में उन्हें बेल मिली तो कुछ मामलों में होटवार जेल में हवालात की सजा काटना पड़ा। किडनी की गंभीर बीमारी से परेशान लालू यादव बेल पर बाहर रखा गया है। हालांकि कोर्ट ने उनके चुनाव लड़ने पर रोक लगा रखी। पिछले दिनों उनकी राजनैतिक गतिविधियों पर भी सवाल उठाए गए थे। उनकी विदेश यात्रा पर कोर्ट की निगरानी रहती है।  लालू यादव को किडनी ट्रांसप्लांटेशन के लिए  सिंगापुर जाना पड़ा। उनकी बेटी रोहिणी आचार्य ने उन्हें अपनी किडनी देकर जान बचाई।
 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें