ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News बिहारउत्तरकाशी में टनल से निकले मजदूरों पर बोले लालू, इसमें नरेंद्र मोदी का क्या योगदान है?

उत्तरकाशी में टनल से निकले मजदूरों पर बोले लालू, इसमें नरेंद्र मोदी का क्या योगदान है?

आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव ने टनल से मजदूरों को निकालने को लेकर कहा कि इसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का क्या योगदान है? टेक्निकल टीम ने मजदूरों को निकाला है, यह खुशी की बात है।

उत्तरकाशी में टनल से निकले मजदूरों पर बोले लालू, इसमें नरेंद्र मोदी का क्या योगदान है?
Malay Ojhaहिन्दुस्तान,पटनाWed, 29 Nov 2023 07:53 PM
ऐप पर पढ़ें

उत्तरकाशी की सिलक्यारा में सुरंग में फंसे 41 मजदूरों ने मंगलवार को जिंदगी की जंग जीत ली। 17 दिनों से सुरंग में फंसे मजदूर लंबी जद्दोजहद के बाद मौत के मुंह से बाहर आ गए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने श्रमिकों से बात कर उनका हाल जाना। इस बीच आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव ने टनल से मजदूरों को निकालने को लेकर कहा कि इसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का क्या योगदान है? टेक्निकल टीम ने मजदूरों को निकाला है, यह खुशी की बात है। बुधवार की शाम दिल्ली से पटना एयरपोर्ट पर पहुंचने पर लालू ने पत्रकारों के साथ बातचीत के दौरान ये बातें कहीं। 

टनल से निकले श्रमिकों को अपने खर्चे पर बिहार लाएगी सरकार
उत्तराखंड टनल से सुरक्षित निकले बिहार के पांच मजदूरों को बिहार सरकार अपने खर्चे पर लाएगी। उनको सुरक्षित बिहार लाने के लिए श्रम संसाधन विभाग ने एक अधिकारी को उत्तराखंड भेजा है। श्रम संसाधन विभाग के अधिकारियों के अनुसार टनल से सुरक्षित निकाले गये पांचों श्रमिकों को बिहार लाने के लिए दिल्ली से एलइओ को भेजा गया है जो देर रात ऋषिकेष, एम्स पहुंच जायेंगे। उत्तराखंड भेजे गये श्रम अधिकारी को कहा गया है कि बिहार के सभी श्रमिकों को लाने के लिए वे समुचित व्यवस्था करें। चूंकि श्रमिकों ने विकट परिस्थितियों में टनल में काफी कुछ सहा है। इसलिए विभाग इन्हें नियमानुसार पुरस्कृत भी करेगी और सम्मान भी करेगी।    

उनको कब्र मिल जाए मेरी... नीतीश सरकार पर भड़के उत्तरकाशी टनल में फंसे बिहार के सबाह अहमद के पिता

पीएम मोदी ने भोजपुर के सबाह अहमद से की बात 
उत्तराखंड की स्क्यियारा सुरंग में 17 दिनों तक फंसे रहे सभी 41 श्रमिकों को सुरक्षित बाहर निकाल लिये जाने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को भोजपुर के सबाह अहमद से फोन पर बात की। उन्होंने बातचीत में मजदूरों के धैर्य व साहस की सराहना की तो सबाह ने भी पीएम को सहज तरीके से सुंरग की आपबीती सुनाई। मजदूरों को लीड कर रहे सेफ्टी सुपरवाइजर सहार के पेऊर निवासी सबाह ने बताया कि प्रधानमंत्री के बात करने की सूचना मिलने पर उन्हें काफी खुशी हुई। 

सबाह ने बताया कि सबसे पहले प्रधानमंत्री ने हमें और हमारे सभी साथियों को धैर्य रखने के लिए बधाई दी और कहा कि 17 दिन कम नहीं होते हैं। वे इन 17 दिनों में लगातार उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से हमारी सकुशल वापसी की खबर लेते रहे। प्रधानमंत्री ने हम सभी श्रमिकों के सुरक्षित बाहर निकलने की केदारनाथ भगवान की कृपा बतायी। पीएम ने सुरक्षित बाहर निकलने के पीछे परिवार वालों का पुण्य भी बताया। कहा कि वे इन 17 दिनों तक काफी चिंतित रहे। उन्होंने सभी श्रमिकों के हौसले की भी दाद दी। कहा कि आपने बिना घबराए सुरंग में धैर्य बनाए रखा

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें