ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहारकंचनजंगा एक्सप्रेस हादसे पर लालू यादव ने पूछा सवाल, कहा- रेल हादसों का जिम्मेदार कौन?

कंचनजंगा एक्सप्रेस हादसे पर लालू यादव ने पूछा सवाल, कहा- रेल हादसों का जिम्मेदार कौन?

आरजेडी चीफ और पूर्व रेल मंत्री लालू यादव ने कंचनजंगा ट्रेन हादसे पर कहा कि देश में हो रहे रेल हादसों के लिए कौन जिम्मेदार है। न्यू जलपाईगुड़ी में हुए रेल एक्सीडेंट में 9 से ज्यादा लोगों की मौत हुई है

कंचनजंगा एक्सप्रेस हादसे पर लालू यादव ने पूछा सवाल, कहा- रेल हादसों का जिम्मेदार कौन?
Sandeepलाइव हिन्दुस्तान,पटनाMon, 17 Jun 2024 02:51 PM
ऐप पर पढ़ें

पश्चिम बंगाल के न्यू जलपाईगुड़ी में हुए बड़े रेल हादसे में 9 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है। और दो दर्जन से ज्यादा लोग घायल हो गए हैं। इस रेल हादसे पर आरजेडी सुप्रीमो और पूर्व रेल मंत्री लालू यादव ने सवाल उठाते हुए पूछा है कि देश में रेल हादसों के लिए आखिर कौन जिम्मेदार है। आपको बता दें बीते एक साल के भीतर 7 बड़े रेल हादसे हो चुके हैं। जबकि कई हादसों को टला गया है।

बिहार के पूर्व मुख्यममंत्री और रेल मंत्रालय संभाल चुके लालू यादव ने एक्स पर पोस्ट करते हुए कहा कि देश में लगातार हो रहे रेल हादसों का जिम्मेवार कौन है?

दरअसल आज कटिहार मंडल के रंगापानी और निजबाड़ी वाली स्टेशन के बीच में स्टेशन पर खड़ी कंचनजंगा एक्सप्रेस को पीछे से मालगाड़ी ने पीछे से टक्कर मार दी। कंचनजंगा एक्सप्रेस के करीब तीन बोगी पटरी से नीचे उतर गए। धक्का इतना तेज था कि एक बोगी-दूसरी बोगी पर चढ़ गया। जिसमें 9 से ज्यादा लोगों की मौत की पुष्टि हो चुकी है। और दर्जनों घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। गए। रेल मंत्री ने मृतकों के परिजनों को 10-10 लाख रुपये की मदद देने का ऐलान किया है। 

बीते एक साल में देश में 7 से ज्यादा बड़े रेल हादसे हो चुके हैं। सबसे भीषण रेल हादसा ओडिशा के बालासोर में 2 जून 2023 को हुआ था। जिसमें 296 लोगों की मौत हुई थी। इस हादसे में भी मालगाड़ी से यशवंतपुर हावड़ा एक्सप्रेस टकरा गई थी। वहीं 29 अक्टूबर 2023 को आंध्र के विजयनगरम के कंटापल्ली में दो पैसेंजरों ट्रेनों की टक्कर में 14 यात्रियों की मौत हो गई थी। 50 से ज्यादा लोग घायल हुए थे। वहीं इसी साल फरवरी में जामताड़ा में ट्रेन हादसे में 2 लोगो की मौत हुई थी।

वहीं बक्सर में बीते साल अक्टूबर महीने में रेलवे स्टेशन के पास ट्रेन दुर्घटनाग्रस्त हो गई थी। ट्रेन के 24 डिब्बे पटरी से उतर गए थे। हादसे में 60 से ज्यादा लोगों के  घायल होने की पुष्टि की थी। और 4 लोगों की मौत हो गई थी।