DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   बिहार  ›  किशनगंज: महानंदा नाम से रजिस्टर्ड हुई जीविका दीदियों की चाय कंपनी, शेयर होल्डर भी होगी जीविका दीदी
बिहार

किशनगंज: महानंदा नाम से रजिस्टर्ड हुई जीविका दीदियों की चाय कंपनी, शेयर होल्डर भी होगी जीविका दीदी

किशनगंज हिन्दुस्तान टीमPublished By: Malay Ojha
Tue, 15 Jun 2021 10:51 PM
किशनगंज: महानंदा नाम से रजिस्टर्ड हुई जीविका दीदियों की चाय कंपनी, शेयर होल्डर भी होगी जीविका दीदी

किशनगंज में चाय की खेती से जुड़ी जीविका दीदी अब चाय कंपनी की मालकिन बनेगी। इसके लिए जीविका दीदी की चाय कंपनी का रजिस्ट्रेशन हो चुका है। भारत सरकार के मिनिस्ट्री ऑफ कॉरपोरेट अफेयर्स से 14 जून को कंपनी को प्रमाण पत्र मिल गया है। 

कंपनी का नाम महानंदा जीविका महिला एग्रो प्रोड्यूसर कंपनी लिमिटेड रखा गया है। हालांकि कंपनी की ब्रांडिंग किस नाम से होगी अभी यह तय नहीं हुआ है। अभी जीविका दीदी की चाय कंपनी का पहला स्टेज पूरा हुआ है। संभव है कि तीन सालों में जीविका दीदी की चाय कंपनी रन करने लगेगी। यह सूबे की पहली जीविका दीदियों की चाय कंपनी होगी। 

दरअसल अभी पोठिया प्रखंड के किचकीपाड़ा कुसियारी में स्थित बिहार सरकार की चाय प्रोर्सेंसग व पैर्केंजग यूनिट को सरकार ने एक कंपनी को दस साल के लीज पर दे दिया है। इस लीज की अवधि लगभग साढ़े तीन साल बची है। जो 2024 में पूरी हो जाएगी। इसी प्रोर्सेंसग व पैर्केंजग यूनिट को सरकार ने जीविका को हैंड ओवर करने का निर्णय लिया है। संभव है कि 2024 में जीविका को हैंडओवर करने के बाद यहां से जीविका दीदी की कंपनी की खुद का चाय का उत्पादन शुरू हो जाएगा। इस बीच चाय की खेती से जुड़ी जीविका दीदी का प्रोड्यूसर ग्रुप तैयार किया गया है। 15 प्रोड्यूसर ग्रुप बनना है। जिसमें से सात ग्रुप तैयार हो चुका है। एक ग्रुप में 30 से 40 दीदी होती है। इन ग्रुप से जुड़ी जीविका दीदी को चाय कंपनी से जुड़ी हर तरह की ट्र्रेंनग दिया जाएगा। ताकि चाय कंपनी शरू होने से पहले जीविका दीदी चाय की खेती से लेकर चाय का उत्पादन, ब्र्रांंडग, व मार्र्केंटग खुद से कर सके।

शेयरधारक भी होगी जीविका दीदी 
चाय कंपनी में निदेशक मंडल को सपोर्ट करने के लिए शेयर धारक भी जीविका दीदियां हीं होंगी। वही कंपनी का शेयर खरीदेंगी। जिस दीदी के पास जितना पैसा होगा वह उसका शेयर धारक होगी। निदेशक मंडल में पांच पद धारक होंगे। इनका चयन सर्वसम्मति  से या र्वोंटग के जरिए होगा।

क्या कहते हैं डीपीएम
जीविका दीदी की चाय कंपनी का भारत सरकार के मिनिस्ट्री ऑफ कारपोरेट अफेयर्स से 14 जून को रजिस्ट्रेशन हो चुका है। महानंदा जीविका महिला एग्रो प्रोड्यूसर कंपनी लिमिटेड नाम से कंपनी रजिस्टर्ड हुई है। अब इस कंपनी से जुड़े बोर्ड ऑफ डायरेक्टर में शामिल जीविका दीदी को प्रशिक्षण दिया जाएगा। 

संबंधित खबरें