ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News बिहारजीतनराम मांझी ने 2025 के बिहार चुनाव के लिए कमर कसी, कहा- 40 सीटें जीतेंगे तो 34 एजेंडे लागू होंगे

जीतनराम मांझी ने 2025 के बिहार चुनाव के लिए कमर कसी, कहा- 40 सीटें जीतेंगे तो 34 एजेंडे लागू होंगे

HAM सुप्रीमो जीतनराम मांझी ने 2025 में होने वाले बिहार विधानसभा चुनाव के लिए कमर कस ली है। उन्होंने दावा किया कि वे कम से कम 40 सीटों पर चुनाव लड़ेंगे और जीत दर्ज करेंगे।

जीतनराम मांझी ने 2025 के बिहार चुनाव के लिए कमर कसी, कहा- 40 सीटें जीतेंगे तो 34 एजेंडे लागू होंगे
Jayesh Jetawatहिन्दुस्तान,पटनाFri, 23 Feb 2024 10:40 PM
ऐप पर पढ़ें

पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने शुक्रवार को कहा कि लोकसभा चुनाव में एनडीए 40 सीटों पर जीत दर्ज करेगा। 2025 विधानसभा चुनाव में एनडीए को 200 सीटें मिलेंगी। यदि हम के 40 विधायक जीत गए तो 34 बिंदुओं का एजेंडा लागू करवाएंगे। गरीबों का काम करवाएंगे। बापू सभागार में हिन्दुस्तानी आवाम मोर्चा की ओर से शुक्रवार को आयोजित पंचायत स्तरीय कार्यकर्ता सम्मेलन में उन्होंने ये बातें कहीं। कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि धरती पर सिर्फ दो ही जाति हैं। एक अमीर और दूसरा गरीब। हम गरीबों की बात करते हैं। बेरोजगारों को नौकरी मिलने तक 5 हजार रुपये भत्ता और गरीबों को 5 डिसमिल जमीन देने का काम उनकी प्राथमिकता में शामिल है। 

उन्होंने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में देश की अर्थव्यवस्था सुधरी है। हम पार्टी मजबूत होगी तो शराबबंदी कानून की समीक्षा होगी। उन्होंने मांग की कि राज्य सरकार सभी जाति-धर्म की लड़कियों को एमए तक की फ्री पढ़ाई फ्री कराए। बेटियों को सामान्य ही नहीं बल्कि वोकेशनल शिक्षा भी मुफ्त मिले। राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. संतोष सुमन ने कहा कि सरकार में भागीदारी और राजनीतिक हिस्सेदारी तभी मिलेगी जब हम सब एकजुट होंगे। पार्टी के एक-एक कार्यकर्ता गांव-गांव जाकर एनडीए के पक्ष  में 40 सीट जिताने के लिए कमर कस लें। 

प्रदेश अध्यक्ष अनिल कुमार ने कहा कि सम्मेलन में पार्टी कार्यकर्ताओं का उत्साह बता रहा है कि एनडीए की जीत में हम की बड़ी भूमिका रहेगी। रंजीत चंद्रवंशी, प्रफुल्ल मांझी, नीतिश दांगी, पिंटु रजक ने राष्ट्रीय अध्यक्ष संतोष सुमन को सोने का मुकुट और गदा भेंट की। विधायक प्रफुल्ल मांझी और ज्योति देवी ने भी संबोधित किया। संचालन राजेश पांडेय और धन्यवाद ज्ञापन श्याम सुन्दर शरण ने किया।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें