DA Image
Wednesday, December 1, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिहारवेंटिलेटर नहीं मिलने से JDU विधायक की पत्नी की मौत, राबड़ी ने नीतीश सरकार पर बोला हमला 

वेंटिलेटर नहीं मिलने से JDU विधायक की पत्नी की मौत, राबड़ी ने नीतीश सरकार पर बोला हमला 

हिन्‍दुस्‍तान टीम ,अररिया Ajay Singh
Fri, 21 May 2021 10:25 AM
वेंटिलेटर नहीं मिलने से JDU विधायक की पत्नी की मौत, राबड़ी ने नीतीश सरकार पर बोला हमला 

बिहार के अररिया जिले की रानीगंज सीट के जदयू के विधायक अचमित ऋषिदेव की पत्नी मंजुला देवी की पत्नी की बुधवार देर शाम कोरोना से मौत हो गई।विधायक ने बताया कि कुछ दिन पहले ही उनकी पत्नी को बुखार आया था। दवा खाने पर ठीक हो गई थीं। इस बीच मंगलवार की देर रात को अचानक शरीर से काफी तेज पसीना निकलने लगा था। उन्‍हें तुरंत इलाज के लिए अररिया ले जाया गया। अररिया में एचआरसीटी जांच में कोरोना बताया गया। इसके बाद फारबिसगंज के कोविड सेंटर ले जाया गया। वहां पर ऑक्सीजन लगाया गया। लेकिन ऑक्सीमीटर पर ऑक्सीजन लेवल 45 तक आ गया था। 

इस बीच डॉक्टरों ने वेंटीलेटर की जरूरत बताई। परिजनों की मदद से मुरलीगंज के सेंटर में वेंटिलेटर पर ले जाने के दौरान मीरगंज के पास उनकी मौत हो गई। विधायक की पत्नी की मौत की सूचना पर विधानसभा क्षेत्र में शोक की लहर दौड़ गई। गुरुवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने विधायक अचमित ऋषिदेव को फोन कर ढांढस बंधाया। 

विधायक ने बताया कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने करीब दस मिनट तक बात की। इस दौरान पत्नी की मौत को लेकर सारी जानकारी ली। मुख्यमंत्री ने विधायक की पत्नी के निधन पर शोक जताया और परिवार के लोगों को ढांढस बंधाया। उधर, क्षेत्र में वेंटिलेटर के अभाव में विधायक की पत्‍नी की मौत की चर्चा है। लोगों का कहना है कि समय पर वेंटिलेटर की सुविधा मिल जाती तो विधायक की पत्नी बच सकती थी। 

बता दें कि अररिया सदर अस्पताल में छह वेंटिलेटर है लेकिन ऑपरेटर के अभाव में पिछले छह माह से बेकार पड़े हैं। वेंटिलेटर के अभाव में विधायक की पत्नी की खबर जैसे ही पूर्व सीएम राबड़ी देवी को मिली उन्‍होंने तुरंत बिहार सरकार की स्वास्थ्य व्यवस्था पर निशाना साधा। 

राबड़ी देवी ने अपने अधिकारिक ट्वीटर पर लिखा कि मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार को इस पर बोलना चाहिए कि नहीं बोलना चाहिए? इसका दोषी भी आज से 30 वर्ष पूर्व के आपके द्वारा दुष्प्रचारित कथित जंगलराज को बता दीजिए। आपने तो पहले के सभी पीएचसी बंद करा दिए।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें