ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिहारबिहार में शव को रस्सी से बांधकर 100 फीट तक घसीटने के मामले में दारोगा सस्पेंड, वीडियो वायरल होने के बाद कार्रवाई

बिहार में शव को रस्सी से बांधकर 100 फीट तक घसीटने के मामले में दारोगा सस्पेंड, वीडियो वायरल होने के बाद कार्रवाई

एक युवक के शव को सौ फीट तक रस्सी बांधकर घसीटा गया। शव के साथ पुलिस का यह व्यवहार देख मानवता शर्मसार हो गई। वीडिया वायरल होने पर दारोगा को सस्पेंड कर दिया गया। बेगूसराय का यह मामला था।

बिहार में शव को रस्सी से बांधकर 100 फीट तक घसीटने के मामले में दारोगा सस्पेंड, वीडियो वायरल होने के बाद कार्रवाई
Malay Ojhaहिन्दुस्तान,बेगूसरायThu, 28 Jul 2022 10:08 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

एक युवक के शव को सौ फीट तक रस्सी बांधकर घसीटा गया। शव के साथ पुलिस का यह व्यवहार देख मानवता शर्मसार हो गई। वीडिया वायरल होने पर दारोगा को सस्पेंड कर दिया गया। घटना बेगूसराय जिले के सहायक थाना लाखो क्षेत्र के निपनियां सीमेंट फैक्ट्री के समीप की है।

बताया जाता है कि एक पाइप से 27 जुलाई को अज्ञात युवक का शव मिला। दुर्गंध से बचने को पुलिस ने सफाईकर्मी को बुलाया। शव को सम्मान के साथ निकालने के बदले उसके पैर में रस्सी बांध कर पाइप से बाहर निकाला गया। एनएच-31 तक घसीटते हुए लाया व ट्रैक्टर पर रखा। सदर असपताल पहुंचने के बाद भी पैर से रस्सी बंधी थी और खींच कर ही पोस्टमार्टम रूम में भेजा गया। फिलहाल शव को पोस्टमार्टम के बाद पहचान के लिए सदर अस्पताल के शवगृह में रखा गया है।

मौत के बाद भी इज्जत नसीब नहीं, बिहार पुलिस की बर्बरता, पैर में रस्सी बांधकर शव को सड़क पर घसीटा

एसपी योगेन्द्र कुमार ने बताया कि पैर में रस्सी बांधकर शव को खींचना संगीन मामला है। यह मानवता के खिलाफ है। लाश चाहे जितनी भी खराब हो जाए, उसका सम्मानपूर्वक पोस्टमार्टम कराना है। इस मामले में दारोगा अनिल कुमार सिंह को दोषी पाकर तत्काल प्रभाव से निलंबित करते हुए विभागीय कार्रवाई के लिए विभाग को पत्र भेजा जा रहा है। साथ ही, लाखो ओपी अध्यक्ष की लापरवाही सामने आने पर उनसे भी शोकॉज किया गया है। चौकीदार की भी भूमिका संदिग्ध पायी गयी है। जांच के बाद उनपर भी विधि सम्मत कार्रवाई होगी।