DA Image
हिंदी न्यूज़ › बिहार › इंडिगो मैनेजर हत्याकांड: रूपेश के खाते की हुई जांच, पुलिस को चकमा दे रहे किलर, बिहार, झारखंड समेत अन्य जगहों पर छापेमारी जारी
बिहार

इंडिगो मैनेजर हत्याकांड: रूपेश के खाते की हुई जांच, पुलिस को चकमा दे रहे किलर, बिहार, झारखंड समेत अन्य जगहों पर छापेमारी जारी

पटना, हिन्दुस्तान टीमPublished By: Malay Ojha
Tue, 26 Jan 2021 03:13 PM
इंडिगो मैनेजर हत्याकांड: रूपेश के खाते की हुई जांच, पुलिस को चकमा दे रहे किलर, बिहार, झारखंड समेत अन्य जगहों पर छापेमारी जारी

इंडिगो के स्टेशन मैनेजर रूपेश सिंह की हत्या मामले में पुलिस टीम ने उनके खाते की जांच की। रूपेश के बैंक खाते में 20 हजार से भी कम रुपये मिले हैं। पुलिस यह देखना चाहती थी कि उनके खाते का ट्रांजेक्शन कितना है। किन लोगों के साथ रुपये का लेन-देन चलता है। इस दौरान कोई खास सबूत एसआईटी के हाथ नहीं लगा। पिछले साल नवंबर महीने में उन्होंने धनतेरस के मौके पर लग्जरी गाड़ी 25 लाख रुपये में खरीदी थी। कार उन्होंने लोन पर ली थी। पुलिस यह पता लगा रही है कि रूपेश के कितने बैंक खाते हैं।

दूसरी ओर कांट्रैक्ट किलरों की तलाश में खाक छान रही पटना पुलिस को लगातार अपराधी चकमा दे रहे हैं। अब तक किलरों को पुलिस नहीं ढूंढ़ पायी है। उनकी तलाश में बिहार, झारखंड समेत अन्य जगहों पर छापेमारी की गयी। लेकिन शूटर लगातार पटना पुलिस को चकमा दे रहे हैं। 

विवाद होने की बात आयी सामने 
सूत्रों की मानें तो तीन महीने पहले पुनाईचक के रहने वाले एक व्यवसायी से रूपेश का विवाद होने की बात सामने आयी है। इस पहलू पर छानबीन की जा रही है। उस व्यवसायी की भी ऊपर तक पहुंच हैं। दोनों के बीच हुए झगड़े को सुलझाने में कई बड़े लोगों ने भी बीच-बचाव किया था। लिहाजा इस पहलू पर भी पुलिस टीम छानबीन कर रही है। 

इस घटना की जांच में कई पुलिस अफसरों को लगाया गया है। इनमें आईपीएस और डीएसपी रैंक के अधिकारी भी शामिल हैं। छानबीन में तकनीक का सहारा भी लिया जा रहा है। पुलिस के बड़े अफसर अलग-अलग दावे कर रहे हैं। बावजूद अब तक पटना पुलिस के हाथ कुछ नहीं लग सका है। रूपेश के कातिल अब तक फरार हैं। 

संबंधित खबरें