ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहारनाबालिग के अपहरण मामले में इमाम गिरफ्तार, एक महीने पहले किशोरी हुई थी अगवा; अब तक नहीं मिला सुराग

नाबालिग के अपहरण मामले में इमाम गिरफ्तार, एक महीने पहले किशोरी हुई थी अगवा; अब तक नहीं मिला सुराग

तिलक मैदान मस्जिद के इमाम मौलाना मो. रिजवान अहमद को समस्तीपुर जिले के कल्याणपुर थाने के दारोगा राजकिशोर राम ने मंगलवार शाम नगर थाना पुलिस के सहयोग से गिरफ्तार कर लिया।

नाबालिग के अपहरण मामले में इमाम गिरफ्तार, एक महीने पहले किशोरी हुई थी अगवा; अब तक नहीं मिला सुराग
Malay Ojhaहिन्दुस्तान,मुजफ्फरपुरWed, 01 Nov 2023 04:25 PM
ऐप पर पढ़ें

बिहार के मुजफ्फरपुर जिले में तिलक मैदान मस्जिद के इमाम मौलाना मो. रिजवान अहमद को समस्तीपुर जिले के कल्याणपुर थाने के दारोगा राजकिशोर राम ने मंगलवार शाम नगर थाना पुलिस के सहयोग से गिरफ्तार कर लिया। मौलाना के पैतृक गांव से पड़ोस की किशोरी का बीते 24 सितंबर को अपहरण हुआ था। पिस्तौल के बल पर किशोरी के अपहरण का मुख्य आरोपित मौलाना के भतीजा मो. साहिल को बनाया गया है। इसमें लड़की की मां ने मौलाना के अलावा उसके भाई मो. सुलेमान और भाभी जूही परवीन को भी आरोपित किया है। अब तक किशोरी का सुराग नहीं मिला है।

पुलिस को आशंका है कि लड़की के अपहरण के मुख्य आरोपित साहिल से उसके परिवार वाले संपर्क में हैं। इस मामले में समस्तीपुर पुलिस आरोपितों को गिरफ्तार कर रही है। मौलाना की गिरफ्तारी की सूचना पर बड़ी संख्या में तिलक मैदान रोड समेत शहर के विभिन्न मोहल्लों के लोग नगर थाने पर पहुंच गए। पुलिस ने मामले से जब अवगत कराया तब सभी लौट गए।  

लड़की की मां ने एफआईआर में कहा कि 24 सितंबर की रात छत के सहारे मो. साहिल (20) उसके घर में प्रवेश किया और बिस्तर पर सोई उसकी बेटी को उठा लिया। कंधे पर डाल कर उसे ले जा रहा था तो उसने इसका विरोध किया। इस पर पिस्टल के बट से मारकर उसको बेहोश कर दिया। अगली सुबह किशोरी की मां जब साहिल के घर पर शिकायत करने गई तो उसके साथ सुलेमान और उसकी पत्नी जूही ने गाली गलौज व मारपीट की। एफआईआर में अपहरण में मौलाना को भी संलिप्त बताते हुए आरोपित बनाया गया है। 

वहीं, मौलाना ने कहा है कि पुलिस इस कांड में निष्पक्ष जांच नहीं कर रही है। वह लंबे समय से गांव नहीं गए हैं। महज पट्टीदार होने के नाते अपहरण के केस में नाम डाल दिया गया है। वह लंबे समय से गांव नहीं गए हैं। मौलाना को लेकर पुलिस टीम देर शाम समस्तीपुर रवाना हो गई।