DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दिल्ली एम्स के बराबर लाएंगे आईजीआईएमएस : CM नीतीश

                                                                         500

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि इंदिरा गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान (आईजीआईएमएस) को दिल्ली एम्स के बराबर में लाएंगे। दिल्ली एम्स की तरह यहां भी मरीजों को सेवा मिले, इसके लिए हर स्तर पर काम हो रहा है, चाहे वह आधारभूत संरचना का मामला हो या विशेषज्ञों और कर्मियों की नियुक्ति का। संस्थान के निदेशक को उन्होंने कहा कि दिल्ली एम्स की तरह इसे बनायें। सिर्फ इलाज नहीं, शोध पर भी ध्यान दें। जितनी राशि लगेगी, राज्य, सरकार देगी। 

मुख्यमंत्री मंगलवार को आईजीआईएमएस परिसर में 500 बेड के अस्पताल भवन का शिलान्यास और कार्यारंभ कर रहे थे। यह भवन छह मंजिला होगा। दो वर्षों में बनकर तैयार होगा और लागत 284 करोड़ होगी। मुख्यमंत्री ने कहा इस परिसर में जल्द 1200 बेड के एक और अस्पताल भवन का निर्माण शुरू होगा। इस तरह इस अस्पताल की क्षमता 2500 हो जाएगी। अभी इसकी क्षमता 850 की है। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि बिहार में सभी तरह के इलाज बेहतर तरीके से हो, इसके इंतजाम किये गये हैं। इसी क्रम में पीएमसीएच को 5400 बेड का बनाया जाना है। तीन-चार साल के अंदर पीएमसीएच का नया कैंपस तैयार हो जाएगा, जो अंतरराष्ट्रीय स्तर का होगा। पीएमसीएच राज्य का पुराना और प्रतिष्ठित अस्पताल रहा है। यहां नेपाल, पूर्वी यूपी, असम और दूसरे राज्य के मरीज इलाज के लिए आते थे। हमलोग फिर से पीएमसीएच को एक आदर्श अस्पताल बनाना चाहते हैं। 

मुजफ्फरपुर में हुई बच्चों की मृत्यु बहुत ही दुखद 
मुख्यमंत्री ने कहा कि हाल में मुजफ्फरपुर में हुई बच्चों की मृत्यु बहुत ही दुखद है। यह पहले से चला आ रहा है। स्वास्थ्य विभाग ने अपनी एक टीम इसके लिए भेजी है, जो इसके लिए किये जा रहे उपायों का भी जायजा लेगी। साथ ही स्थानीय स्तर पर इसको लेकर जागरूकता अभियान चलेगा, ताकि अपने बच्चों की हिफाजत लोग अच्छे ढंग से कर सकें। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:IGIMS will bring Delhi AIIMS equivalent CM Nitish Kumar