DA Image
31 दिसंबर, 2020|2:34|IST

अगली स्टोरी

लालू के खिलाफ FIR दर्ज कराने के बाद बोले ललन पासवान- गरीब हूं पर बिकाऊ नहीं

bjp mla lalan paswan

आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ एफआई दर्ज कराने के बाद बीजेपी विधायक ललन पासवान ने कहा कि मैं गरीब हूं पर बिकाऊं नहीं। कुछ दिन पहले ही कथित तौर पर लालू ने ललन पासवान को बिहार विधानसभा अध्यक्ष चुनाव में महागठबंधन उम्मीदवार का साथ देने के लिए प्रलोभन दिया था। इसी मामले में विधायक ने पटना में एफआईआर दर्ज कराई है। इसके बाद पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने कहा कि बिहार का सबसे गरीब विधायक होने के साथ ही मैं दलित हूं। यह आम धारणा है कि दलित व गरीब आदमी बिकाऊ होता है। यह धारणा कब बदलेगी। सामाजिक न्याय के पुरोधा कहे जाने वाले लालू प्रसाद ने जिस तरह से फोन कर मुझे खरीदने की कोशिश की, उससे दुखी हूं।

गुरुवार को प्रदेश भाजपा कार्यालय में ललन पासवान ने कहा कि मैं पढ़ा-लिखा और स्वाभिमानी हूं। राष्ट्रवादी राजनीति कर रहा हूं। हमने प्रिवेंशन ऑफ करप्शन एक्ट के तहत निगरानी थाने में मुकदमा किया है। मुझे कानून पर भरोसा है और उम्मीद है कि मुझे न्याय मिलेगा। उन्होंने कहा कि पहले जब बातचीत का हवाला दिया तो ऑडियो की मांग की गई। जब ऑडियो सामने आया तो अब राजद इसे झूठा बताने में लगा है। हकीकत है कि अगर देश में लोकतंत्र नहीं होता तो लालू प्रसाद हों या मुझ जैसा गरीब ललन पासवान जैसा आदमी, कोई जानने वाला नहीं होता। लेकिन लालू प्रसाद लोकतंत्र के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं। मैं एक साधारण कार्यकर्ता हूं और रहूंगा।

ललन पासवान ने कहा कि 20 वर्षों से सामाजिक जीवन में हूं। मुझ जैसे नए और लोकतंत्र में पूरी आस्था रखने वाले विधायक के साथ जिस तरह से लालू प्रसाद ने प्रलोभन देने की कोशिश की है, यह अत्यंत चिंताजनक है। मुझे इस बात का बहुत अफसोस है। पहले मैं तो बहुत खुश हुआ था कि एक बड़े राजनेता ने मुझे विधायक चुने जाने पर बधाई देने के लिए फोन किया है। लेकिन जब उन्होंने मुझे सरकार गिराने की साजिश में शामिल करने की कोशिश की तो दुख हुआ। मौके पर मंत्री पीएचईडी मंत्री रामप्रीत पासवान, प्रवक्ता प्रेम रंजन पटेल, प्रदेश मीडिया प्रभारी अशोक भट्ट व एससी मोर्चा के अध्यक्ष अजीत चौधरी भी मौजूद थे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:i am poor but not saleable said bjp mla lalan paswan after registering fir against rjd chief lalu yadav in patna