ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहारअवैध संबंध को दिया प्यार का नाम, पति ने भाभी संग करी पत्नी की हत्या, बेसहारा हुए तीन बच्चे

अवैध संबंध को दिया प्यार का नाम, पति ने भाभी संग करी पत्नी की हत्या, बेसहारा हुए तीन बच्चे

पती ने भाभी के साथ मिलकर अपनी पत्नी की हत्या कर दी। हालांकि फांसी का नाम देकर छुपाने की कोशिश की थी, लेकिन बाद में खुलासा हुआ तो पुलिस की गिरफ्त में आ गया। वहीं भाभी अब भी फरार है।

अवैध संबंध को दिया प्यार का नाम, पति ने भाभी संग करी पत्नी की हत्या, बेसहारा हुए तीन बच्चे
Ratanलाइव हिन्दुस्तान,धमदहाWed, 19 Jun 2024 04:37 PM
ऐप पर पढ़ें

किसी ने लिखा है कि प्यार और जंग में सब जायज है। इसी लिखे हुए को कुछ लोग इस कदर सही मानने लगते हैं कि प्यार में लोगों की जान तक ले लेते हैं। ऐसा ही एक मामला धमदाहा थानाक्षेत्र के दमगड़ा पंचायत का है। दमगाड़ा के एक व्यक्ति ने भाभी से प्रेम के चक्कर में अपनी पत्नी की फांसी लगाकर हत्या कर दी। मरने वाली महिला का नाम सावित्री देवी बताया जा रहा है। उसकी उम्र 28 बर्ष थी। मृतका के छोटे भाई अखिलेश दास ने बहन के पति करमचंद दास और सरिता देवी पर हत्या करने की प्राथमिकी दर्ज कराई है।   
अखिलेश ने एफआईआर में दर्ज कराया कि सुबह तकरीबन 6:30 बजे उसे जानकारी मिली कि उसकी बहन ने आत्महत्या कर ली है। लेकिन जब अखिलेश परिवार सहित दमगड़ा पहुंचा तो मामला कुछ और ही पता चला। वहां जाकर बात सामने आई कि दरअसल उसकी बहन नें आत्महत्या नहीं करी बल्कि उसके बहनोई और उसकी भाभी ने मिलकर उसकी हत्या की है। उसने तत्काल डायल 112 को कॉल करके पुलिस को सूचना दी। 
 
पुलिस ने मौके पर पहुंचकर लाश को कब्जे में लेकर पोस्टर्माटम के लिए भेज दिया। इसके बाद मृतका के पति को भी हिरासत में ले लिया। एफआईआर में आरोप लगाया है कि पति करमचंद दास और जेठानी सरिता देवी के बीच बरसों से अवैध संबंध था। करमचंद की पत्नी भी इस बात को जानती थी, इसलिए वह काफी लंबे समय से इसका विरोध भी कर रही थी। सावित्री को रास्ते से हटाने के लिए ही दोनों ने आत्महत्या का झूठा खेल रचकर उसकी हत्या कर दी। थानाध्यक्ष कुमार अभिनव ने बताया कि मृतका के भाई अखिलेश दास के आवेदन पर मृतका के पति एवं उसकी जेठानी पर हत्या का मामला दर्ज किया गया है। इस मामले में मृतका के पति को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया है।

मृतका के पति के जेल जाते ही तीनों बच्चे बेसहारा
हत्या के आरोप में पति जेल में है। मां रही नहीं। ऐसे में सावित्री के तीनों बच्चे अब बेसहारा हो गए है। लेकिन बताया जा रहा है कि मृतका सावित्री देवी और करमचंद दास की नौ साल की बेटी एवं छह व तीन साल के दो बेटों को लेकर जेठानी कहीं भाग गई है।