DA Image
23 जनवरी, 2020|8:09|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पर्यावरण के प्रति जागरूकता प्रदर्शित करेगा मानव श्रृंखला : CM नीतीश

nitish kumar

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है कि 19 जनवरी को 11.30 से 12 बजे तक बनने वाली राज्यव्यापी मानव श्रृंखला पर्यावरण के प्रति जागरूकता को प्रदर्शित करेगा। जलवायु में हो रहे परिवर्तन में अपनी सजगता दिखाने के लिये लोग एकजुट होकर मानव श्रृंखला बना रहे हैं। पदाधिकारियों को निर्देश दिया कि मानव श्रृंखला में लोगों की सुरक्षा और सुविधा का विशेष ख्याल रखें। राष्ट्रीय मार्ग पर यातायात व्यस्त रहता है। जब-तक लोग घर तक नहीं पहुंच जाएं, यातायात के बेहतर संचालन के लिये निगरानी करें। 

मुख्यमंत्री ने मंगलवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग से जिलाधिकारियों और पुलिस अधीक्षकों समेत तमाम आलाधिकारियों से बात की और मानव श्रृंखला की तैयारी का जायजा लिया। साथ ही कई दिशा-निर्देश उन्हें जारी किए। मुख्यमंत्री स्वंय 19 को गांधी मैदान में मानव श्रृंखला का हिस्सा बनेंगे।

मुख्यमंत्री ने समीक्षा बैठक में कहा कि गरीब राज्य और इतनी घनी आबादी होने के बावजूद यहां मानव श्रृंखला बनाना बड़ी बात है। पर्यावरण के प्रति यहां के लोगों की यह कोशिश है, जो बहुत बड़ी श्रृंखला के रूप में दिखेगा। यह मानव श्रृंखला पर्यावरण के लिहाज से बहुत बड़ा रिकॉर्ड होगा। उन्होंने कहा कि सभी जिलाधिकारी और अन्य पदाधिकारी एक-एक चीज का ठीक से आंकलन कर लें। ठंड के मौसम में लोगों के लिये और सतर्क रहने की जरूरत है। लोगों की सुविधा के लिये एम्बुलेंस, पेयजल एवं अन्य आवश्यक व्यवस्था कर लें। बैठक में जानकारी दी गयी है कि मोटरसाइकिल एवं ड्रोन के माध्यम से वीडियोग्राफी कराते हुये शामिल होने वाले लोगों एवं मार्गों का रिकॉर्ड एकत्रित किया जायेगा। इस पर मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य के विभिन्न हिस्सों से तय करके हवाई जहाज के माध्यम से ऊपर से मानव श्रृंखला का एक मैप बना लेंगे। मानव श्रृंखला के लिये विभिन्न जिलों के आपसी जुड़ाव का एक नक्शा भी बना लें। लोग जिस स्थान पर रहते हैं, वहीं उन्हें मानव श्रृंखला में शामिल करें।

4.27 करोड़ लोग भाग लेंगे
समीक्षा बैठक में शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव आरके महाजन ने मानव श्रृंखला की तैयारियों पर मुख्यमंत्री के समक्ष प्रस्तुतीकरण किया। बताया कि करीब 16,351 किमी लंबाई की मानव श्रृंखला बनेगी। इसमें 5,052 किमी मुख्य मार्ग की लंबाई होगी।  11,299 किलोमीटर उपमार्ग की लंबाई होगी। दो हजार लोग प्रति किलोमीटर की दर से 3 करोड़ 27 लाख की संख्या होगी। इसके अलावा हर वार्ड में सौ लोगों की श्रृंखला बनेगी। इस तरह चार करोड़ 27 लाख लोगों के मानव श्रृंखला में शामिल होने की संभावना है।

स्कूल और सरकारी कार्यालय खुले रहेंगे
रविवार का दिन होने के बावजूद स्कूल और सभी सरकारी कार्यालय खुले रहेंगे। कक्षा एक से चार के बच्चे स्कूल के अहाते में ही मानव श्रृंखला बनायेंगे। मार्ग के बायीं ओर खड़ा होने के लिये ही स्थान को चिहिन्त किया जा रहा है। प्रति किलोमीटर पर पेयजल की व्यवस्था होगी। मानव श्रृंखला में अधिक से अधिक लोगों की भागीदारी हो, इसके लिये माइक्रो प्लानिंग की गयी है। मानव श्रृंखला के मुख्य मार्ग और उपमार्ग की जानकारी का प्रचार-प्रसार किया जा रहा है।

गांधी मैदान में होगा प्रस्थान बिन्दू
पटना में गांधी मैदान में मानव श्रृंखला के प्रस्थान बिन्दू होगी। गांधी मैदान से चारों दिशाओं में मानव श्रृंखला का प्रस्थान होगा, जो एक दूसरे से जुड़ते हुये राज्य के सभी जिले आपस में श्रृंखलाबद्घ होंगे। बैठक में बताया गया कि सीमावर्ती जिले के जिलाधिकारी पड़ोसी राज्य के जिलाधिकारी से यातायात के सुलभ संचालन के लिए संपर्क में है। दिन के 10 बजे से दोपहर डेढ़ बजे तक यातायात के व्यवस्थित स्वरूप की भी जानकारी दी गयी। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने गीत, नाटक एवं नारे से संबंधित जल-जीवन-हरियाली तभी होगी खुशहाली नामक एक पुस्तिका का विमोचन भी किया। मुख्यमंत्री सचिवालय के संवाद में हुई बैठक में शिक्षा मंत्री कृष्णनंदन प्रसाद वर्मा, मुख्यमंत्री के परामर्शी अंजनी कुमार सिंह, मुख्य सचिव दीपक कुमार, पुलिस महानिदेशक गुप्तेश्वर पाण्डेय समेत तमाम आलाधिकारी उपस्थित थे।  

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Human chain to display environmental awareness Bihar CM Nitish Kumar