ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News बिहारबिहार में भीषण सड़क हादसा, 9 लोगों की मौत, सीएम नीतीश ने जताया शोक

बिहार में भीषण सड़क हादसा, 9 लोगों की मौत, सीएम नीतीश ने जताया शोक

बिहार के कैमूर जिले में मोहनियां क्षेत्र में हुए सड़क हादसे में 9 लोगों की मौत हो गई। तेज रफ्तार ट्रक की चपेट में स्कॉर्पियो और बाइक के आने से दर्दनाक हादसा हुआ। मौके पर पुलिस टीम पहुंची है।

बिहार में भीषण सड़क हादसा, 9 लोगों की मौत, सीएम नीतीश ने जताया शोक
Sandeepहिन्दुस्तान संवाददाता।,मोहनिया, कैमूरMon, 26 Feb 2024 08:56 AM
ऐप पर पढ़ें

कैमूर में रविवार की रात करीब सवा आठ बजे दर्दनाक हादसा हुआ, जिसमें दो महिला सहित 9 लोगों की मौके पर मौत हो गई। यह दुर्घटना दिल्ली से कोलकाता को जोड़नेवाली सिक्सलेन पर मोहनियां थाना क्षेत्र के देवकली गांव के सामने हुई। मृतकों में देवकली गांव के बाइक सवार 50 वर्षीय दधिबल यादव सहित नौ लोगों की मौत हुई है। स्कार्पियो सवार यात्रियों की शिनाख्त अभी तक नहीं हो सकी है ।
 
घटना स्थल पर मिले प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि सफेद रंग की स्कार्पियो तेज रफ्तार में वाराणसी की तरफ जा रही थी। स्कार्पियो ने बाइक सवार लोगों में जोरदार टक्कर मारी, जिससे बाइक व स्कार्पियो उछलकर दक्षिणी लेन से उत्तरी लेने में आकर तेज रफ्तार में आ रहे ट्रक से टकरा गए। इस घटना में स्कार्पियो के परखच्चे उड़ गए और उसमें सवार दो महिला सहित सभी 9 लोगों की मौके पर मौत हो गई। 

सूचना मिलने के बाद दुर्घटना स्थल पर लोगों की भीड़ जुट गई। स्कार्पियों में फंसे शव को बाहर निकालना मुश्किल हो गया था। टक्कर इतनी जबर्दस्त थी कि स्कार्पियो चालक का शरीर दो हिस्सो में बंट गया था। अधिकतर शव क्षत-विक्षत हो गए थे। सूचना पर पहुंची पुलिस शवों निकालकर एंबुलेंस से अनुमंडल अस्पताल मोहनियां भिजवाया।

कैमूर में हुए दर्दनाक सड़क हादसे पर सीएम नीतीश कुमार ने एक्स पर पोस्ट करते हुए शोक व्यक्त किया है। उन्होने लिखा कि कैमूर जिले के मोहनिया थाना क्षेत्र के NH-2 स्थित देवकली के समीप भीषण सड़क दुर्घटना में लोगों की मृत्यु दुःखद। मृतकों के परिजनों के प्रति गहरी संवेदना है। घायलों के समुचित इलाज का निर्देश दिया है। घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना है।

हादसे में दुर्घटनाग्रस्त स्कार्पियो पर अंकित नंबर बक्सर का है। इस स्कार्पियो के पीछे पुलिस लिखा हुआ है। इससे यह संभावना जताई जा रही है कि मृतकों में शामिल लोगों का जुड़ाव बक्सर से हो सकता है। इस दुर्घटना के बाद सड़क के दोनों ओर वाहनों की कतार लग गई। करीब एक घंटे तक जीटी रोड पर लगे जाम में वाहन फंसे रहे। सूचना पर पहुंची पुलिस ने जीटी रोड से मलबा हो हटाकर यातायात को बहाल किया, जिसके बाद वाहनों का परिचालन शुरू हुआ।

दुर्घटना के बाद जीटी रोड पर जुटी भीड़ राहत कार्य में जुट गई। पुलिस मौके पर पहुंचकर शवों को एक-एक कर बाहर निकाला और एंबुलेंस से मोहनियां के अनुमंडल अस्पताल में भिजवाया। घटना स्थल पर जुटी भीड़ कभी ट्रक के नीचे फंसी बाइक को निकालने की कोशिश कर रही थी, तो कभी स्कार्पियो को खड़ा करने का प्रयास कर रही थी। कुछ देर तक पता ही नहीं चल पा रहा था कि स्कार्पियो के अंदर कितने शव हैं। काफी मशक्कत के बाद जब स्कार्पियो से पुलिस ने शव को बाहर निकाला, तब मृतकों की संख्या 9 पहुंच गई।

शव को निकालने में काफी परेशानी हुई। पुलिस कर्मियों के साथ स्थानीय लोगों ने भी इसमें सहयोग किया। मृतकों की जेब से मिले दो आधार व गाड़ी नंबर से मृतकों की पहचान करने में पुलिस जुटी है। घटना के बाद मदद करने वालों की अपेक्षा फोटो लेने व वीडियो बनाने वालों की संख्या ज्यादा दिखी। राहत कार्य में डीएसीपी दिलीप कुमार, थानाध्यक्ष अवधेश कुमारी, दुर्गावती थानाध्यक्ष राजीव रंजन सिंह के अलावा स्थानीय लोगों में जिला पार्षद गीता पासी, गोल्डेन सिंह आदि थे।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें