DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   बिहार  ›  मुजफ्फरपुर में रेलवे स्टेशन पर फेंकी बिना इस्तेमाल हुईं एंटीजन जांच किट, जांच शुरू
बिहार

मुजफ्फरपुर में रेलवे स्टेशन पर फेंकी बिना इस्तेमाल हुईं एंटीजन जांच किट, जांच शुरू

कार्यालय संवाददाता,मुजफ्फरपुरPublished By: Sneha Baluni
Thu, 17 Jun 2021 06:37 AM
मुजफ्फरपुर में रेलवे स्टेशन पर फेंकी बिना इस्तेमाल हुईं एंटीजन जांच किट, जांच शुरू

जहां एक ओर कोरोना की रोकथाम के लिए जागरूकता कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं, वहीं दूसरी ओर स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों की बड़ी लापरवाही सामने आई है। यात्रियों की जांच के बाद एंटीजन जांच किट और उसका कचरा खुले में फेंक दे रहे हैं। वहीं, हैरत की बात है कि बिना इस्तेमाल हुई जांच किट भी यूं ही छोड़कर चले गए। 

मुजफ्फपुर जंक्शन पर बड़े पैमाने पर कोरोना जांच किट बर्बाद हो रही है। दक्षिण प्रवेश द्वार के समीप गंदगी के बीच फर्श पर लावारिस हालत में एंटीजन जांच किट फेंक दी गई है। जांच किट पैकेट में बंद हैं। इसको लेकर रेल कर्मी व यात्री अचंभित हैं। फर्श के कीचड़ व वर्षा के पानी से भीगने के कारण अब जांच किट इस्तेमाल करने लायक नहीं रह गई है। 

रेल कर्मियों ने बताया जंक्शन पर कोरोना जांच के लिए चार केंद्र कार्यरत हैं। केंद्र के कर्मी अक्सर जांच किट को जहां-तहां फेंककर चले जाते हैं। कई बार किट के अभाव में यात्रियों की कोरोना जांच नहीं हो पाती है। वहीं, जंक्शन से सटे इमली रोड रेलवे कॉलोनी में खुले स्थान पर कोरोना जांच के बाद मेडिकल वेस्ट फेंके जाने पर रेल कर्मियों ने आक्रोश जताया है। 

रेल कर्मियों की सूचना पर स्टेशन अधीक्षक सुधीर कुमार सिंह ने सिविल सर्जन से शिकायत की। उन्होंने सिविल सर्जन से मेडिकल कचरे को हटाने की मांग की है। रेल कर्मियों ने कहा कि कॉलोनी में खुली जगह पर कोरोना जांच के मेडिकल वेस्ट को फेंक दिया गया है। इससे संक्रमण फैलने की आशंका है। तेज हवा से कचरा जहां-तहां बिखर रहा है।

सिविल सर्जन डॉ. एसके चौधरी ने कहा, 'एंटीजन जांच किट फेंके जाने के संबंध में जानकारी लेकर संबंधित कर्मियों पर कार्रवाई की जाएगी। यह गंभीर मामला है।'

संबंधित खबरें