ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहारछात्रसंघ चुनाव लड़ना चाहता था हर्ष राज, समस्तीपुर में लोजपा की शांभवी चौधरी के लिए किया था प्रचार

छात्रसंघ चुनाव लड़ना चाहता था हर्ष राज, समस्तीपुर में लोजपा की शांभवी चौधरी के लिए किया था प्रचार

पटना में छात्र हर्ष राज की हत्या से सनसनी मच गई है। हर्ष ने समस्तीपुर से लोजपा-आर की उम्मीदवार शांभवी चौधरी का चुनाव प्रचार भी किया था। शांभवी जेडीयू मंत्री और नीतीश के करीबी अशोक चौधरी की बेटी हैं।

छात्रसंघ चुनाव लड़ना चाहता था हर्ष राज, समस्तीपुर में लोजपा की शांभवी चौधरी के लिए किया था प्रचार
Malay Ojhaहिन्दुस्तान,हाजीपुरTue, 28 May 2024 01:52 PM
ऐप पर पढ़ें

पटना यूनिवर्सिटी में सोमवार को जिस छात्र हर्ष राज की हत्या हुई वो वैशाली जिले के मझौली गांव के रहने वाले थे और छात्रों के बीच लोकप्रिय थे। समस्तीपुर लोकसभा क्षेत्र से एनडीए उम्मीदवार शांभवी चौधरी के लिए हर्ष ने प्रचार भी किया था। चुनाव प्रचार के दौरान हर्ष शांभवी के साथ रहते थे। 25 मई को गांव वे वोट डालने के लिए गांव भी गए थे। पिता अजीत कुमार ने बताया कि हर्ष छात्रसंघ का चुनाव लड़ना चाहता था।जानकारी के अनुसार करीब एक माह पहले यूनिवर्सिटी स्टूडेंट्स ने डांडिया नाइट्स का आयोजन किया था। इसके मैनेजमेंट को लेकर विवाद चल रहा था। 

हर्ष के पिता अजीत कुमार ने बताया कि हर्ष राज फाइनल ईयर का छात्र था। परीक्षा लॉ कॉलेज में दे रहा था। वहां से निकलने के बाद जैसे ही हर्ष बुलेट पर चढ़ा तभी नकाबपोश हमलावरों ने हमला कर दिया। पिता ने बताया कि हर्ष छात्र संघ का चुनाव लड़ना चाहता था। वह कहता था कि आज तक जो भी चुनाव लड़ा है, वो सभी पास आउट थे। पढ़ते हुए किसी ने चुनाव नहीं लड़ा। मैं कहता था कि हार जाओगे। पत्रकार के बेटे हो, गरीब भी हो। हर्ष कहता था कि मैं मेहनत कर रहा हूं, कॉलेजों में घूम रहा हूं। सैनिटरी वेंडिग मशीन लगवा रहा हूं।

पटना में मर्डर, बीएन कॉलेज के छात्र को बदमाशों ने पीट-पीटकर मार डाला

हर्ष राज के पिता ने कहा कि मामले की जांच होनी चाहिए और हत्यारों को सजा मिलनी चाहिए। हर्ष के पिता अजीत कुमार ने कहा कि घटना की जानकारी एक छात्रा ने हर्ष के नंबर से उसकी मां के फोन पर कॉल कर दी। हर्ष मैट्रिक पास करने के बाद से ही पटना में रह रहा था। बोरिंग रोड में वह किराए के मकान में रह रहा था। हर्ष की हत्या पर जेडीयू मंत्री अशोक चौधरी, उनकी बेटी और लोजपा नेता शांभवी चौधरी, आईपीएस विकास वैभव समेत कई लोगों ने दुख जताया है।