ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News बिहारबिहार में हनुमान मंदिर के महंत की बेरहमी से हत्या, आंखें फोड़ीं; फिर पीट-पीटकर मार डाला

बिहार में हनुमान मंदिर के महंत की बेरहमी से हत्या, आंखें फोड़ीं; फिर पीट-पीटकर मार डाला

जब ठाकुरबाड़ी का दरवाजा नहीं खुला तो ग्रामीण किसी तरह दीवार फांदकर अंदर घुसे। उन्होंने देखा कि महंत अचेत अवस्था में पड़े हुए हैं। इसके बाद ग्रामीणों ने पुलिस को सूचना दी।

बिहार में हनुमान मंदिर के महंत की बेरहमी से हत्या, आंखें फोड़ीं; फिर पीट-पीटकर मार डाला
Jayesh Jetawatहिन्दुस्तान,सासारामThu, 23 Mar 2023 06:26 AM
ऐप पर पढ़ें

बिहार के रोहतास जिले में एक बुजुर्ग महंत की बेरहमी से हत्या करने का मामला सामने आया है। अपराधियों ने मंगलवार रात बिक्रमगंज के शिव सरोवर स्थित हनुमान मंदिर के पास ठाकुरबाड़ी के करीब 90 वर्षीय वृद्ध महंत यदु साधु की नृशंस हत्या कर दी। हत्यारों मानवता की हद पार कर दी। उन्होंने सबसे पहले बुजुर्ग महंत की दोनों आंखे फोड़ीं। इसके चलते वे अपराधियों को पहचान नहीं सके। इसके बाद महंत से बुरी तरह मारपीट कर गुप्तांग में ऐसी चोट पहुंचाई की वे अचेत हो गए और अधमरा हालत छोड़कर भाग निकले। 

बताया जा रहा है कि मंगलवार की रात भारी बारिश हो रही थी। इसके चलते शिव सरोवर सुनसान हो गया और अपराधी वारदात को अंजाम देने में सफल रहे। यदि बारिश नहीं होती तो मंदिर परिसर में हमेशा कई लोग रहते। वारदात की जानकारी बुधवार दोपहर तब लगी जब ठाकुरबाड़ी का दरवाजा नहीं खुला तो ग्रामीण किसी तरह दीवार फांदकर अंदर घुसे। उन्होंने देखा कि महंत अचेत अवस्था में पड़े हुए हैं। इसके बाद ग्रामीणों ने पुलिस को सूचना दी।

सूचना पर संझौली पुलिस ने अधमरा की स्थिति में महंत को पीएचसी पहुंचाया। जहां कुछ ही देर बाद चिकित्सको ने जांच के बाद मृत घोषित कर दिया। थानाध्यक्ष शम्भू कुमार ने बताया कि इलाज के दौरान महंत की मौत हो गई। शव को पोस्टमार्टम के लिए सासाराम भेज दिया गया है। शव को देखने से प्रथमदृष्टया लगता है कि किसी आपसी रंजिश और धन संपत्ति विवाद को लेकर वारदात को अंजाम दिया गया है। मृतक के परिजन को सूचित कर दिया गया है। घटना की विस्तृत जांच की जा रही है।

एसडीपीओ शशि भूषण सिंह ने कहा कि वृद्ध महंत की जिस प्रकार बेरहमी से हत्या की गई है, उससे कई बातें सामने आ रही हैं। पुलिस एफआईआर करके घटना की विस्तृत जांच कर रही है। हत्यारे शीघ्र ही पकड़े जाएंगे।
 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें