Monday, January 24, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिहारपंचायत चुनाव: लालू प्रसाद यादव की बहु नही बन सकी मुखिया, 'माई' समीकरण के प्रत्याशी ने शिकस्त

पंचायत चुनाव: लालू प्रसाद यादव की बहु नही बन सकी मुखिया, 'माई' समीकरण के प्रत्याशी ने शिकस्त

लाइव हिन्दुस्तान,गोपालगंजSudhir Kumar
Sun, 14 Nov 2021 11:47 AM
पंचायत चुनाव: लालू प्रसाद यादव की बहु नही बन सकी मुखिया, 'माई' समीकरण के प्रत्याशी ने शिकस्त

इस खबर को सुनें

गोपालगंज जिले से पंचायत चुनाव की एक अहम खबर है। राजनीति के बड़े खिलाड़ी और राजद के सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की बहू सावित्री देवी की पंचायत चुनाव में करारी हार हुई है। सावित्री देवी गोपालगंज के फुलवरिया पंचायत से मुखिया पद के लिए चुनाव के मैदान में अपनी किस्तम आजमा रही थी। सावित्री देवी पहली बार पंचायत चुनाव लड़ रही थी। इस हार से उनके घर परिवार और समर्थकों के बीच मायूसी छा गयी है। 

पहली बार लड़ रही थी चुनाव

प्राप्त जानकारी के मुताबिक सावित्री देवी के ससूर स्व. मंगरु यादव राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के बड़े भाई थे। वह मंगरु यादव के बेटे रामानंद यादव की बहू है। इस प्रकार लालू प्रसाद  यादव सावित्री देवी के दादा ससूर हैं। बिहार के राजनैतिक घराने से ताल्लुक रखने वाली सावित्री देवी  ने ग्राम पंचायत राज फुलवरिया से मुखिया पद के लिए अपनी उम्मीदवारी के लिए नामांकन पर्चा दाखिल किया था। वह रामानंद यादव के पूत्र सुधीश यादव की पत्नी है। सावित्री देवी पहली बार पंचायत चुनाव में उतरी थी और पहले प्रयास में उन्हें हार का मुंह देखना पड़ा। लेकिन सावित्री देवी को अलताफ हुसैन नामक एक उम्मीदवार ने परास्त कर दिया।

चौथे स्थान पर सिमटी

बताया जा रहा है कि सावित्री के देवी की जीत के लिए पंचायत में जोरदार चनाव प्रचार और व्यक्तिगत संपर्क किया गया था। लेकिन, जनता ने सिरे से सावित्री देवी को नकार दिया। फुलवरिया पंचायत में किसी को यह उम्मीद नहीं थी कि सावित्री देवी की हार होगी। इसलिए इस नतीजे से सावित्री देवी और उनके समर्थक काफी निराश हैं। चुनाव में अल्ताफ हुसैन को 1768 वोट मिले। जबकि सावित्री देवी को महज 701 वोट ही मिल सके। इस पंचायत चुनाव में सावित्री देवी चौथे नंबर पर रही।


 

epaper

संबंधित खबरें