ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News बिहारजहानाबाद में युवती की गोली मारकर हत्या, फौजी रहे पति पर मर्डर आरोप; दो साल पहले हुई थी लव मैरिज

जहानाबाद में युवती की गोली मारकर हत्या, फौजी रहे पति पर मर्डर आरोप; दो साल पहले हुई थी लव मैरिज

बिहार के जहानाबाद में मां और मुंहबोले भाई के साथ स्कूटी से जा रही युवती पर बाइक सवार बदमाशों ने अंधाधुंध फायरिंग कर दी। घटना में युवती की मौत हो गई जबकि गाड़ी चला रहा भाई घायल हो गया।

जहानाबाद में युवती की गोली मारकर हत्या, फौजी रहे पति पर मर्डर आरोप; दो साल पहले हुई थी लव मैरिज
Sudhir Kumarहिन्दुस्तान,जहानाबादThu, 04 Jan 2024 09:12 PM
ऐप पर पढ़ें

जहानाबाद के काको थाना क्षेत्र  के जहानाबाद -घोसी सड़क मार्ग पर कडरूआ पुल के समीप गुरुवार की दोपहर करीब डेढ़ बजे बाइक सवार अपराधियों ने स्कूटी से घर जा रहे  एक युवती, उनकी मां और युवक पर ताबड़तोड़ फायरिंग कर युवती  की गोली मारकर हत्या कर दी।  इस घटना में गोली लगने से युवक  घायल हो गया। सदर अस्पताल में प्राथमिक उपचार के बाद युवक को गंभीर हालत में पीएमसीएच भेजा गया है। मृतका रिचा कुमारी (21 वर्ष) हुलासगंज थाना क्षेत्र के कोकरसा गांव की निवासी थी। जख्मी युवक उदय कुमार भी उसी गांव के रहने वाले हैं जिनका इलाज पटना में चल रहा है। स्कूटी बाइक पर सवार मृत  लड़की की मां ने हत्या करने का आरोप फौजी रहे अपने दामाद और उनके कुछ सहयोगियों पर लगाया है। घटनास्थल से गोली के कुछ खोखे जप्त किए गए हैं।

सूचना पाकर काको के थानाध्यक्ष अजीत कुमार घटनास्थल पर पहुंचे और स्कूटी को जप्त कर  गोली लगे युवक - युवती को सदर अस्पताल में लाया जहां डॉक्टर ने युवती को मृत घोषित कर दिया। उन्होंने बताया कि मृतिका की मां प्रतिमा देवी ने इस घटना को अंजाम देने का आरोप हुलासगंज के वीर्रा गांव के निवासी अपने दामाद गौरव कुमार और उनके सहयोगियों पर लगाया है। थानाध्यक्ष ने यह भी  बताया कि इस संबंध में प्राथमिकी दर्ज करने के लिए अभी किसी तरह का कोई बयान नहीं दिया गया है। शव का पोस्टमार्टम कराने की प्रक्रिया की जा रही थी।

प्रेम विवाह के बाद पति-पत्नी में हुआ था विवाद, फौजी ने रचा ली थी दूसरी शादी
मृत लड़की की मां प्रतिमा देवी का कहना कि वह अपनी बेटी की शादी गौरव से नहीं करना चाहती थे, लेकिन वह जबरदस्ती प्रेम विवाह किया था। 20 महीने पूर्व 26 अप्रैल 2022 को उनकी बेटी रिचा कुमारी की शादी वीर्रा गांव के निवासी जैनेंद्र शर्मा के पुत्र गौरव कुमार से हुई थी। लेकिन बाद में विवाद हो गया था। फौज में उसकी नौकरी लगी थी। वह फिर उनकी बेटी को रखने से मुकर गया था। थाना पुलिस और कोर्ट कचहरी में मामला जाने के बाद गौरव को जेल जाना पड़ा था। कुछ ही दिनों पूर्व वह जेल से छुटकारा आया था। उक्त महिला ने यह भी कहा है कि उसके दामाद के सर्विस बुक में उनकी बेटी का नाम था, लेकिन दूसरी शादी रचा लेने के बाद उसकी बेटी को लोग रास्ते से हटाना चाह रहे थे और इसी कारण घटना को अंजाम दिया गया। बहरहाल पुलिस हर बिंदुओं पर तहकीकात कर रही है।

खतियान जमा कर एक ही स्कूटी पर सवार होकर तीनों जा रहे थे घर
घटना के संबंध में मृत युवती की मां प्रतिमा देवी ने सदर अस्पताल में रोते -  चिल्लाते यह भी बताया कि वह, उनकी बेटी रिचा कुमारी और उनके बेटा का दोस्त उदय कुमार एक ही स्कूटी बाइक पर सवार होकर जहानाबाद आए थे और खतियान जमा करने के बाद तीनों अपने घर लौट रहे थे। उनका कहना है कि वह अपने दामाद और उसकी दूसरी शादी वाले घर के परिजनों से डरकर रह रही थी। उन्हें धमकी दिया जा रहा था। इस वजह से  वह अपनी बेटी के साथ इस्लामपुर में रह रही थी।

घर लौटने के दौरान जब वे लोग कड़रूआ पुल के समीप पहुंचे उसी दौरान दो-तीन बाईकों पर सवार चार-पांच लोगों ने पहले उनकी बेटी को गोली मारी। बाइक चला रहे उनके बेटे के  दोस्त ने जब स्कूटी तेज कर आगे बढ़ाना चाहा तो आगे से घेरकर  उसके सीने में गोली मार दी। स्कूटीऔर वे तीनों वहीं पर गिर गए। गोली मारने की घटना में चार-पांच लोगों के शामिल रहने और उनका नाम मृतिका की मां पुलिस को बता रही थीं। दिनदहाड़े हुई घटना से कुछ देर के लिए आसपास के लोगों में दहशत का माहौल कायम हो गया। घटना को अंजाम देने के बाद सभी अपराधी भाग निकले।

परिजन पोस्टमार्टम कराने से फिलहाल कर रहे थे इनकार
काको थाने की पुलिस ने कानूनी प्रक्रिया के तहत युवती के शव का पोस्टमार्टम कराने की प्रक्रिया शुरू की, लेकिन उनके एक महिला परिजन पोस्टमार्टम करने से इनकार कर रहे थे। उनका कहना था कि मृतका रिचा के पिता और दो भाई महाराष्ट्र के मुंबई और पुणे में रहते हैं। उन लोगों के आने के बाद आगे की कानूनी कार्रवाई होगी। हालांकि पुलिस शव को पोस्टमार्टम रूम में भिजवाकर आगे की कानूनी की। अपराधियों की खोजबीन की जा रही है। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें