ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहारदो लाख का इनामी पप्पू शर्मा गिरफ्तार, खुद की मौत की झूठी खबर फैलाकर काट रहा था मौज

दो लाख का इनामी पप्पू शर्मा गिरफ्तार, खुद की मौत की झूठी खबर फैलाकर काट रहा था मौज

बिहार के जहानाबाद में एसटीएफ ने कई मामलों में फरार चल रहे कुख्यात अपराधी पप्पू शर्मा को गिरफ्तार कर लिया। वह खुद की मौत की झूठी खबर फैलाकर मौज काट रहा था।

दो लाख का इनामी पप्पू शर्मा गिरफ्तार, खुद की मौत की झूठी खबर फैलाकर काट रहा था मौज
crime arrest
Jayesh Jetawatहिन्दुस्तान,जहानाबादWed, 05 Jun 2024 11:05 PM
ऐप पर पढ़ें

बिहार के जहानाबाद से दो लाख का इनामी कुख्यात पप्पू शर्मा बुधवार को एसटीएफ के हत्थे चढ़ गया। एसटीएफ की टीम ने जिले के रतनी में परस विगहा थाना क्षेत्र के सेंधवा गांव से खदेड़कर अपराधी पप्पू शर्मा को गिरफ्तार किया। बदमाश अपनी मौत की झूठी खबर फैलाकर कई महीनों से मौज काट रहा था। यहां तक कि गांव में उसके नाम का मृत्युभोज भी हो गया था। पप्पू शर्मा जहानाबाद जिले का कुख्यात अपराधी है। उसके खिलाफ कई थानों में एक दर्जन से ज्यादा मामले दर्ज हैं।

जानकारी के मुताबिक कोरोना काल में सेंधवा गांव निवासी कुख्यात पप्पू शर्मा के मध्य प्रदेश के इंदौर में मौत होने की सूचना आई थी। गांव में उसके नाम का विधिवत भोज भी करा दिया गया था। उस समय कहा गया था कि कोविड के कारण उसकी मौत हो गई है, इस कारण उसका दाह संस्कार भी वहीं कर दिया गया। हालांकि, यह खबर झूठी निकली। मौत की झूठी खबर फैलाने के बाद पप्पू शर्मा पुलिस से छिपकर अपना नेटवर्क चल रहा था। 

आरोपी के खिलाफ एक दर्जन से अधिक मामले विभिन्न थाने में दर्ज हैं। जिले के टॉप टेन अपराधी सूची में भी वह शामिल है। फिलहाल पप्पू शर्मा की गिरफ्तारी के बाद सेंधवा गांव में भारी संख्या में पुलिस बल छापेमारी कर रही है। हालांकि स्थानीय थाने की पुलिस की मानें तो कुख्यात की गिरफ्तारी के बाद हथियार एवं अन्य सामानों की बरामदगी के लिए छापेमारी की जा रही है। पुलिस अभी कुछ भी बता नहीं रही है। विदित हो कि 2018 में भी पुलिस ने छापेमारी कर एक कारबाइन व 29 कारतूस बरामद किए थे। 

पप्पू शर्मा के घर में एक अगस्त 2023 को भी छापेमारी की थी। उस दौरान 20 लाख रुपये से अधिक के कीमती सामान बरामद किए गए थे। जिनमें टाइल्स, म्यूजिक सिस्टम, लाउडस्पीकर, डेकोरेशन के कीमती फूल-पौधे व अन्य सामान शामिल थे। घर में लगे सीसीटीवी, वाईफाई को भी जब्त किया गया था। इस दौरान पुलिस ने बंधक बनाकर रखे गए चार मजदूरों को मुक्त कराया था। इसके बाद से कुख्यात पप्पू शर्मा के मृत होने पर सवाल उठ रहे थे। पुलिस उसकी लोकेशन निकालने की लगातार कोशिश कर रही थी।