DA Image
हिंदी न्यूज़ › बिहार › वैशाली में गंडक के उफान ने अशोक स्तंभ को डुबोया, पूरा इलाका झील में तब्दील
बिहार

वैशाली में गंडक के उफान ने अशोक स्तंभ को डुबोया, पूरा इलाका झील में तब्दील

बैशाली लाइव हिन्दुस्तानPublished By: Yogesh Yadav
Wed, 01 Sep 2021 03:34 PM
वैशाली में गंडक के उफान ने अशोक स्तंभ को डुबोया, पूरा इलाका झील में तब्दील

बिहार में बाढ़ ने कई जिलों में तबाही मचाई हुई है। भारी बारिश और नेपाल से आ रहा पानी लोगों के लिए परेशानी बना हुआ है। गंगा तो शांत होती दिख रही हैं लेकिन गंडक और अन्य सहायक नदियों में उफान जारी है। 

गंडक, बाया और झाझा के पानी ने बाढ़ के ऐसे हालत बना दिए हैं कि वैशाली के ऐतिहासिक धरोहरों के अस्तित्व पर खतरा मंडराने लगा है। वैशाली के पौराणिक और ऐतिहासिक स्थलों में पानी भर गया है। भगवान बुद्ध की अस्थि कलश जिस जगह पर मिली थी, यानी बुद्ध रेलिक स्तूप जलमग्न हो चुका है। अभिषेक पुष्करणी, शान्ति स्तूप और उसके आसपास की सड़कों पर झील जैसा नजारा है। पानी में पूरी तरह से डूब चुके इस इलाके के होटलों और रेस्टोरेंटों में सन्नाटा पसरा है।

अशोक स्तम्भ और उसके आसपास स्थित ऐतिहासिक भग्नावशेषों में पानी भर चुका है। पूरा इलाका बाढ़ में डूब हुआ है। इन ऐतिहासिक स्थलों के अस्तित्व पर इस बाढ़ ने खतरे की घंटी बजा दी है। चारों तरफ पानी ही पानी है।

गंडक और उसकी सहायक नदियां, बाया और झाझा अपने किनारों को छोड़ बहुत दूर निकलती दिख रही है। बाढ़ के खौफनाक हालात बनाती इन नदियों ने वैशाली, लालगंज और भगवानपुर के बड़े इलाके में तांडव मचाना शुरू कर दिया है। खेत, खलिहान और मकानों के साथ बाढ़ इस बार इतिहास को डुबो देने वाली तस्वीर दिखाने लगी है।

संबंधित खबरें