DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कुख्यात रंजीत व गुर्गों के इशारे पर हुई थी जेल गेट पर फायरिंग

आरा जेल गेट पर ताबड़तोड़ फायरिंग कुख्यात रंजीत चौधरी व उसके गुर्गों के इशारे पर की गई थी। इनके इशारे पर ही बाइक पर सवार तीन अपराधियों ने बुधवार को दिनदहाड़े फायरिंग की थी। इसे लेकर आरा नगर थाने में प्राथमिकी दर्ज कराया गयी है। इसमें पांच को नामजद करते हुए तीन अन्य अज्ञात को आरोपित बनाया गया है। आरा जेल में बंद रंजीत चौधरी, अभिषेक कुमार और ममलेश पर षडयंत्र रचने का आरोप लगाया गया है और धारा 120 (बी) लगाई गई है। 

पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार इस मामले में नगर थाने के दारोगा राम लखन प्रसाद के लिखित आवेदन के आधार पर एफआईआर दर्ज की गई है। एफआईआर में कहा गया है कि बीते नौ जुलाई को करीब साढ़े दस बजे जेल के कक्षपाल चंदन और धीरेंद्र संतरी पोस्ट पर ड्यूटी कर रहे थे। तभी एक बच्चा बंदी प्रकाश चौधरी का भोजन लेकर आया। दोनों कक्षपाल बच्चे को बोले कि प्रकाश चौधरी को बेऊर जेल पटना भेज दिया गया है। इसलिए खाना वापस लेकर जाओ। कुछ देर बाद बंदी अभिषेक कुमार व ममलेश सिंह जेल के मेन गेट पर आये। गेट के अंदर से ही कक्षपाल चंदन कुमार को ऊंची आवाज में बोलने लगे कि प्रकाश चौधरी का खाना आया है तो तुम क्यों रोके हो? इस पर कक्षपाल बोला कि प्रकाश चौधरी इस जेल में नहीं है, तो खाना क्यों अंदर जायेगा?  इस पर अभिषेक कुमार और ममलेश सिंह ने जान मारने की धमकी देते हुए कहा कि अपाची मोटरसाइकिल से घूमते हो। सड़क पर ही गोली मरवा देंगे। आइंदा से हम लोगों का खाना मत रोकना। 

एक घंटे के बाद बंदी रंजीत चौधरी मंडल कारा के मेन गेट पर आकर जेल के अंदर से ही कक्षपाल चंदन कुमार को मेन गेट पर बुलाकर धमकी भरे स्वर में बोलने लगा कि तुम हमारे आदमियों का खाना क्यों रोकते हो और झगड़ा भी करते हो। हमारे आदमियों का खाना मत रोकना। झगड़ा-झंझट करने से बचना। उसी घटना को लेकर उपरोक्त तीनों बंदी अपने गैंग के सदस्यों से बुधवार को मंडल कारा के सामने दहशत फैलाने के लिए हवा में गोली फायर करवाया है। 

फायरिंग के बाद घटनास्थल पर चार खोखा बरामद किये गये हैं। पुलिसिया जांच एवं अनुसंधान में पता चला कि जेल गेट के आसपास घूम रहे अपराधी आरा टाउन थाना क्षेत्र के इब्राहिम नगर निवासी कामता महतो का पुत्र गोरख महतो और नवादा बैंक कॉलोनी मोहल्ला निवासी सुदर्शन राय के पुत्र विष्णु राय के अलावा अन्य अज्ञात हैं। सभी रंजीत चौधरी के सहयोगी हैं। सभी मोटरसाइकिल से आकर फायर करते हुए शिवगंज की ओर भाग निकले। 

इस सिलसिले में चांदी थाना क्षेत्र के लोदीपुर निवासी अभिषेक कुमार, मुफस्सिल के महुली निवासी मंमलेश कुमार, उदवंतनगर थाना क्षेत्र के बेलाउर निवासी रंजीत चौधरी, टाउन थाना क्षेत्र के इब्राहिम नगर निवासी गोरख महतो और नवादा थाना क्षेत्र कीके बैंक कॉलोनी निवासी विष्णु राय को नामजद करते हुए तीन अज्ञात के विरुद्ध एफआईआर दर्ज की गई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Firing at Ara jail Gate was done at behest of Gangster Ranjit