ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहारपश्चिम चंपारण में आग ने मचाया तांडव, 250 घर जलकर राख; 2 लोगों की मौत, कई सिलेंडर भी फटे

पश्चिम चंपारण में आग ने मचाया तांडव, 250 घर जलकर राख; 2 लोगों की मौत, कई सिलेंडर भी फटे

बिहार के पश्चिम चंपारण में सोमवार को शॉर्ट सर्किट से लगी आग ने जमकर तबाही मचाई। आग की चपेट में आने से 250 घर जलकर राख हो गए। वहीं घर में लगी आग के कारण दम घुटने से दो लोगों की मौत हो गई।

पश्चिम चंपारण में आग ने मचाया तांडव, 250 घर जलकर राख; 2 लोगों की मौत, कई सिलेंडर भी फटे
Malay Ojhaहिन्दुस्तान,पश्चिम चंपारणMon, 29 Apr 2024 07:24 PM
ऐप पर पढ़ें

पश्चिम चंपारण के ठकराहा की जगीराहा हरिजन बस्ती में सोमवार दोपहर एक बजे भीषण आग लगने से ढाई सौ घर जलकर राख हो गये। हादसे में राजेंद्र राम (55) की झुलसकर, जबकि दीपक राम (35) की दम घुटने से मौत हो गई। भीषण अगलगी में गांव में दो दर्जन से अधिक मवेशी भी झुलसकर मर गये। सूचना के चार घंटे बाद पहुंची दमकल गाड़ी आग पर काबू पाने का प्रयास करती रही लेकिन शाम तक काबू नहीं पाया जा सका था। ग्रामीणों के अनुसार, तेज पछिया हवा और सिलेंडरों के फटने से आग गांव में तेजी से फैल गई। भीषण लपटें देखकर गांव में भगदड़ मच गई। चारों तरफ चीख-पुकार मच गई। लोग अपनों को ढूंढ़ने के लिए बदहवास होकर इधर-उधर भागने लगे। हर कोई आग से जान बचाने के लिए गांव से निकलकर सरेह की ओर भागता दिखा। आग लगने के कारणों का पता नहीं चल सका है। 

ग्रामीणों ने बताया कि दीपक राम आग से बचने के लिए घर में छिप गया। बाद में लोगों ने दरवाजा तोड़कर उसे निकाला और बेहोशी की हालत में पीएचसी ले गये। वहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। सीओ ने बताया कि आग से पीड़ितों की सूची बनायी जा रही है। इसके आधार पर उन्हें राहत मुहैया कराई जाएगी। 

जगीरहा के मुखिया चंद्रबाबू व पूर्व मुखिया विनोद यादव ने बताया कि भीषण अगलगी में करीब ढाई सौ घर जल गये हैं। दो लोगों के अलावा दो दर्जन से अधिक मवेशी भी झुलसकर मर गए हैं। अगलगी के दौरान सिलेंडरों के फटने से आग तेजी से फैल गयी। पछिया हवा में भीषण लपटों के बीच किसी की हिम्मत नहीं हो रही थी पास जाने की। नतीजन किसी के घर से एक भी सामान नहीं निकाला जा सका। सीओ सुमित राज व थानाध्यक्ष उत्तम कुमार भी मौके पर पहुंचे। दोनों अधिकारियों ने दमकल की मदद से आग पर काबू पाने का प्रयास किया लेकिन शाम तक सफलता नहीं मिल सकी थी।