DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   बिहार  ›  पटना: तेजस्वी व तेजप्रताप समेत 3000 पर FIR, राजद कार्यकर्ताओं के पथराव में डीएसपी, मजिस्ट्रेट समेत दर्जनों पुलिसकर्मी जख्मी

बिहारपटना: तेजस्वी व तेजप्रताप समेत 3000 पर FIR, राजद कार्यकर्ताओं के पथराव में डीएसपी, मजिस्ट्रेट समेत दर्जनों पुलिसकर्मी जख्मी

पटना, हिन्दुस्तान टीमPublished By: Malay Ojha
Tue, 23 Mar 2021 10:42 PM
पटना: तेजस्वी व तेजप्रताप समेत 3000 पर FIR, राजद कार्यकर्ताओं के पथराव में डीएसपी, मजिस्ट्रेट समेत दर्जनों पुलिसकर्मी जख्मी

बिगड़ती कानून व्यवस्था, बेरोजगारी, महंगाई व भ्रष्टाचार के खिलाफ मंगलवार को राजद की ओर से किये प्रदर्शन के दौरान पुलिस पर किये गये पथराव व मारपीट के मामले में पुलिस प्रशासन की ओर से कड़ा कदम उठाया गया है। इस मामले में गांधी मैदान और कोतवाली में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव, तेज प्रताप यादव, जगदानंद सिंह समेत 15 नामजद व 3 हजार अज्ञात कार्यकर्ताओं के खिलाफ संबंधित क्षेत्र के दंडाधिकारियों की ओर से एफआईआर दर्ज कराई गई है। वहीं, मारपीट व पथराव के दौरान एक डीएसपी, तीन मजिस्ट्रेट, कोतवाली प्रभारी सुनील कुमार सिंह समेत 18 से अधिक पुलिसकर्मी जख्मी हुये हैं। इनका प्राथमिक उपचार कराया गया है।

वहीं दूसरी ओर बिहार विशेष सशस्त्र पुलिस विधेयक 2021 को लेकर नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर जमकर निशाना साधा। तेजस्वी ने कहा कि विशेष सशस्त्र पुलिस विधेयक के रूप में काला कानून लाया गया है। तेजस्वी ने कहा कि आज कोई अपराधी अपराध करेगा तो बिना वारंट पुलिस उसे गिरफ्तार कर सकती है, लेकिन इस विधेयक के अनुसार पुलिस केवल विश्वास के आधार पर भी किसी को गिरफ्तार कर सकती है और जितने दिन तक चाहे हिरासत में रख सकती है। 

तेजस्वी ने मीडिया के साथ बातचीत में कहा कि इस कानून के माध्यम से सरकार पुलिस को गुंडा बनाना चाहती है। आज पत्रकारों को पीटा गया है। विधेयक पास होने के बाद पुलिस घर में घुसकर लोगों को मारेगी। तेजस्वी ने कहा की मुख्यमंत्री इस विधेयक को लेकर बेवकूफ बना रहे हैं। जब मैं बोलने जा रहा था, तब इस विधेयक पर बोलने नहीं दिया गया।

संबंधित खबरें