DA Image
हिंदी न्यूज़ › बिहार › बिहार में नेपाल के रास्‍ते फैलाई जा रही फेक करेंसी, नौ लाख जाली नोटों के साथ आठ तस्‍कर गिरफ्तार
बिहार

बिहार में नेपाल के रास्‍ते फैलाई जा रही फेक करेंसी, नौ लाख जाली नोटों के साथ आठ तस्‍कर गिरफ्तार

वरीय संवाददाता,मुजफ्फफपुर Published By: Ajay Singh
Mon, 02 Aug 2021 12:12 PM
बिहार में नेपाल के रास्‍ते फैलाई जा रही फेक करेंसी, नौ लाख जाली नोटों के साथ आठ तस्‍कर गिरफ्तार

जाली नोट के नेटवर्क को ध्वस्त करने के लिए रविवार को पुलिस टीम ने मुजफ्फरपुर के अलावा मोतिहारी व सीतामढ़ी के इंडो-नेपाल बोर्डर इलाके में छापेमारी की। इस दौरान पुलिस टीम ने आठ तस्कर व कैरियर को गिरफ्तार कर उनके पास से नौ लाख रुपये के जाली नोट बरामद किए। सभी नोट सौ-सौ के हैं। इसके अलावा नेपाली मुद्रा भी बरामद की गयी है। तस्करों के पास से 50 हजार के असली नोट और एक सफेद स्कॉर्पियो भी जब्त की गयी है। पुलिस अधिकारी इनसे पूछताछ कर रहे हैं।

सूचना के आधार पर टीम ने मोतीपुर, पूर्वी चंपारण व सीतामढ़ी में छापेमारी की। इस दौरान सीतामढ़ी के मेजरगंज से आठ तस्करों को गिरफ्तार किया गया। पूछताछ में अब तक कुल डेढ़ दर्जन लोगों को पुलिस ने चिह्नित किया है। जाली नोट का नेटवर्क नेपाल के अलावा पश्चिम बंगाल से भी जुड़ा है। नेटवर्क से जुड़े सभी जाली नोट धंधेबाजों को पकड़ने के लिए टीम छापेमारी में जुटी गई है। छापेमारी व पूछताछ के बाद पुलिस अधिकारी पूरे मामले का खुलासा करेंगे। जब्त नेपाली मुद्रा सही है या गलत इसकी विशेषज्ञों से जांच करायी जा रही है।

मोतिहारी पहुंचा था मोतीपुर का एक धंधेबाज

मोतीपुर का एक धंधेबाज जाली नोट बेचने मोतिहारी पहुंचा था। इसकी भनक मोतीपुर पुलिस को लगी। इसके बाद वरीय पुलिस अधिकारियों के निर्देश पर छानबीन शुरू हुई। मोतीपुर पुलिस ने मोतिहारी से जाली नोट लेकर पहुंचे दो धंधेबाजों को दबोचा। इसके बाद एएसपी पश्चिमी सैयद इमरान मसूद के नेतृत्व में एक टीम बनाई गई और कार्रवाई शुरू की गयी। इसके बाद मोतिहारी से लेकर सीतामढ़ी के मेजरगंज तक छापेमारी की गई।

 

मोतिहारी में हो रही जाली नोटों की छपाई 

अबतक की पूछताछ में यह बात सामने आयी है कि धंधेबाज मोतिहारी के विभिन्न इलाकों में कंप्यूटर कैफे में जाली नोट की छपाई करते हैं। पूछताछ के आधार पर मुजफ्फरपुर पुलिस मोतिहारी पुलिस की मदद से कैफे को चिह्नित करने में जुट गई है। रात 11 बजे तक उनका सुराग नहीं मिल सका था। छानबीन कर रहे पुलिस अधिकारियों ने बताया कि भारतीय मुद्रा के सौ रुपये के नौ लाख के जाली नोट जब्त किए गए हैं। नोट के कागज की क्वालिटी अच्छी है। हालांकि, नोट की छपाई का स्तर सही नहीं है।

 

पूछताछ में गिरफ्तार शातिरों ने स्वीकार भी किया है कि असली नोट की गड्डियों में इन नकली नोटों को खपाया जाता था। नकली नोट के आठ धंधेबाजों को मोतीपुर, मोतिहारी व सीतामढ़ी से पकड़े हैं। नौ लाख के भारतीय मुद्रा के जाली नोट व नेपाली मुद्रा भी जब्त हुई है। मामले में पुलिस टीम छापेमारी में जुटी है।

जयंतकांत, एसएसपी

संबंधित खबरें