ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News बिहारEZC Meeting: आज आमने-सामने होंगे अमित शाह और नीतीश, विशेष राज्य के दर्जे का उठ सकता है मुद्दा

EZC Meeting: आज आमने-सामने होंगे अमित शाह और नीतीश, विशेष राज्य के दर्जे का उठ सकता है मुद्दा

पटना में आज आयोजित पूर्वी क्षेत्रीय परिषद की बैठक में काफी लंबे वक्त के बाद अमित शाह और नीतीश कुमार का आमना-सामना होगा। जिसमें बिहार को विशेष राज्य के दर्जे का मुद्दा नीतीश उठा सकते हैं।

EZC Meeting: आज आमने-सामने होंगे अमित शाह और नीतीश, विशेष राज्य के दर्जे का उठ सकता है मुद्दा
Sandeepहिन्दुस्तान ब्यूरो,पटनाSun, 10 Dec 2023 09:15 AM
ऐप पर पढ़ें

राजधानी पटना में आज पूर्वी क्षेत्रीय परिषद की बैठक में केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह और बिहार के सीएम नीतीश कुमार का आमना-सामना होगा। इससे पहले हुई बैठक में नीतीश की बजाय बिहार कीअगुवाई डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने की थी। आज यानी रविवार को ओयोजित होने वाली 26वीं बैठक की अध्यक्षता अमित शाह करेंगे जबकि बैठक के उपाध्यक्ष नीतीश कुमार हैं।

इस बैठक में पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी, उड़ीसा के सीएम नवीन पटनायक और झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन शामिल नहीं हो रहे हैं। उनकी बजाय तीनों राज्यों के मुख्यमंत्रियों के प्रतिनिधि बैठक में हिस्सा लेंगे। जिसमें झारखंड के वित्त मंत्री रामेश्वर उरांव, कल्याण मंत्री चंपई सोरेन, पश्चिम बंगाल की वित्त राज्य मंत्री चंद्रिमा भट्टाचार्या और ओडिशा के मुख्यमंत्री के प्रतिनिधि मंत्री शिरकत करेंगे। बैठक दो बजे दिन से शुरू होगी व पांच बजे तक चलेगी। 

इन मुद्दों पर होगा मंथन 
बैठक में बिहार को विशेष राज्य का मुद्दा और केंद्रीय योजनाओं में राज्य की हिस्सेदारी 90:10 किए जाने को लेकर प्रमुखता से चर्चा की जाएगी। बिहार में नदियों के गाद प्रबंधन को भी उठाया जाएगा। बिहार की ओर से बैठक में रखे जाने वाले एजेंडा को शनिवार तक अंतिम रूप दिया गया। केंद्र सरकार के निर्देश पर पटना में पूर्वी क्षेत्रीय परिषद (ईजेडसी) की यह 5वीं बार बैठक होगी। इसके पूर्व वर्ष 1958,1963, 1985 और 2015 में पटना में ये बैठक हो चुकी है।

पूर्वी क्षेत्रीय परिषद की बैठक में पूर्वी राज्यों के बीच आर्थिक विकास एवं नक्सल उन्मूलन तथा परिवहन के विस्तार को लेकर समन्वय बढ़ाने पर जोर दिए जाने पर विमर्श होगा। इस बैठक में संयुक्त बिहार से झारखंड के अलग होने के बाद 22 साल से लटके पेंशन बंटवारा के मुद्दा को फिर रखा जाएगा और उसका निदान ढूंढ़ने की कोशिश होगी। 

बैठक में शीर्षस्तर पर चर्चा के बाद राज्यहित में नई पहल किए जाने को लेकर निर्णय भी लिए जा सकते हैं। राष्ट्रीय महत्व के मुद्दों पर भी चर्चा होगी। इनमें महिलाओं और बच्चों के खिलाफ दुष्कर्म के मामलों की त्वरित जांच और इसके शीघ्र निपटारे के लिए फास्ट ट्रैक विशेष न्यायालयों का कार्यान्वयन, हर गांव में 5 किमी के भीतर बैंकों/इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक शाखाओं की सुविधा आदि मुद्दों पर चर्चा होगी।

विशेष राज्य के दर्जे की प्रमुख मांग 
नीतीश सरकार के वित्त मंत्री विजय कुमार चौधरी ने कहा है कि पूर्वी क्षेत्रीय परिषद की बैठक में बिहार अपनी बात मजबूती से रखेगा। हमें उम्मीद है कि उनका निपटारा होगा। एक सवाल के जवाब में कहा कि बिहार को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग तो बहुत पुरानी है और यह हमारी प्रमुख मांग भी है। इसी तरह कोसी हाईडैम का मामला भी अंतरराष्ट्रीय है। 

150 आईएएस अधिकारी बैठक में होंग शामिल
पूर्वी क्षेत्रीय परिषद की बैठक में केंद्र के अलावा बिहार, ओडिशा, झारखंड और पश्चिम बंगाल के 150 आईएएस अधिकारी रविवार को एक साथ बैठेंगे। दिल्ली से 30 आईएएस अधिकारी आएंगे। शनिवार को कई वरीय अधिकारी पटना पहुंचे। इन राज्यों से मुख्य सचिव, गृह सचिव समेत कई वरीय अधिकारी भी बैठक में भाग लेंगे। बैठक को लेकर सुरक्षा के कड़े प्रबंध किए गए हैं।

चाक-चौबंद सुरक्षा
एयरपोर्ट से लेकर सीएम आवास, संवाद भवन और राजभवन के आसपास के इलाके में चौकसी बढ़ा दी गई है। प्रशासन की ओर से लगभग 40 मजिस्ट्रेट की तैनाती की गई है। इसमें 10 मजिस्ट्रेट एयरपोर्ट और उसके आसपास में रहेंगे। कार्यक्रम स्थल, संवाद भवन के आसपास 20 मजिस्ट्रेट की तैनाती की गई है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें