DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   बिहार  ›  मोतिहारी में एक्जीक्यूटिव इंजीनियर व ऑपरेटर 80 हजार रिश्वत लेते धराया, इंजीनियर के कमरे से 11 लाख 800 नगद रुपये भी बरामद
बिहार

मोतिहारी में एक्जीक्यूटिव इंजीनियर व ऑपरेटर 80 हजार रिश्वत लेते धराया, इंजीनियर के कमरे से 11 लाख 800 नगद रुपये भी बरामद

मोतिहारी हिन्दुस्तान टीमPublished By: Malay Ojha
Tue, 15 Jun 2021 07:43 PM
मोतिहारी में एक्जीक्यूटिव इंजीनियर व ऑपरेटर 80 हजार रिश्वत लेते धराया, इंजीनियर के कमरे से 11 लाख 800 नगद रुपये भी बरामद

मोतिहारी जिले के ढाका प्रमंडल के ग्रामीण कार्य विभाग के कार्यपालक अभियंता रामचन्द्र पासवान और उसके कम्प्यूटर ऑपरेटर शशि कुमार श्रीवास्तव को निगरानी की टीम ने 80 हजार रुपये रिश्वत के साथ रंगेहाथ दबोच लिया। यह गिरफ्तारी शहर के छतौनी के बरियारपुर स्थित उनके किराये के मकान से मंगलवार की सुबह दस बजे हुई। दोनों ठेकेदार से एमबी बुक करने के बाद कमीशन की राशि ले रहे थे। कम्प्यूटर ऑपरेटर इसमें बिचौलिया की भूमिका निभा रहा था। अभियंता के पटना व रांची स्थित आवास पर भी छापेमारी की गयी है। पटना से आयी निगरानी विभाग की दस सदस्यीय टीम अभियंता व कम्प्यूटर ऑपरेटर को अपने साथ ले गयी। कार्यपालक अभियंता अररिया जिला के निवासी है। वहीं ऑपरेटर मोतिहारी नगर क्षेत्र का रहने वाला है।

निगरानी विभाग के डीएसपी सुरेन्द्र कुमार मउवार ने बताया कि अभियंता के कमरे की तलाशी में 11 लाख 800 रुपये मिले हैं। उन्होंने बताया कि शहर के ही ठेकेदर बबलू सिंह ने निगरानी विभाग में शिकायत की थी। ठेकेदार अभियंता व कम्प्यूटर ऑपरेटर के रवैये से तंग आ चुका था। एमबी बुक करने के लिए कमीशन की राशि तय हुई थी। बिना राशि लिए अभियंता ने एमबी बुक करने से इंकार कर दिया गया था। कम्प्यूटर ऑपरेटर शशि कुमार ने कमीशन की डिलिंग पहले की थी। ठेकेदार से रुपये तय होने के बाद साहब के सामने ही कमीशन देने की बात हुई।

शिकायत के बाद निगरानी विभाग की टीम के सदस्य भी अभियंता के किराये के मकान के आसपास डटे थे। ऑपरेटर ठेकेदार को बुलाकर अभियंता के पास ले गया। रुपये देने के समय ही निगरानी टीम के सदस्यों ने ऑपरेटर व अभियंता को रंगेहाथ दबोच लिया। ढाका प्रमंडल में कार्यपालक अभियंता ढाई वर्ष से कार्यरत थे। उसके पूर्व वे फारबिसगंज में थे।

 

संबंधित खबरें