DA Image
1 अप्रैल, 2020|11:05|IST

अगली स्टोरी

पटना की हर गली होगी सैनिटाइज: जो आपके मोहल्ले का उठाते हैं कचरा वही करेंगे छिड़काव

कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए राजधानी की हर गली को सैनिटाइज किया जाएगा। इसका जिम्मा नगर निगम ने उठाया है। निगम ने हर वार्ड में 5 स्पे्र मशीन पहुंचा दी हैं। जो सफाईकर्मी मोहल्लों से कचरा उठाते थे, उन्हीं को सैनिटाइजेशन का काम सौंप दिया गया है। शुक्रवार से शहर की हर गली सैनिटाइज होनी शुरू हो जाएगी।  

कोरोना वायरस के संक्रमण से शहर को बचाने के लिए नगर निगम ने वार्डों की एक-एक गली और सड़क को सैनिटाइज करने का निर्णय लिया है। सैनिटाइजेशन का काम विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) की गाइडलाइन के अनुसार कराया जाएगा। निगम आयुक्त हिमांशु शर्मा र्ने ंहदुस्तान स्मार्ट से हुई बात में बताया कि डब्ल्यूएचओ ने कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव की दिशा में चार दवाओं में से किसी एक के छिड़काव पर जोर दिया है। इनमें से दो दवाओं को चुनते हुए निगम ने बाजार, मुख्य सड़क एवं मोहल्लों में छिड़काव का काम शुरू कर दिया है। 

आयुक्त ने बताया कि कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए सोडियम हाइपो क्लोराइड एवं ब्र्लींचग पाउडर का घोल तैयार कर शहर में छिड़काव का काम शुरू किया जा चुका है। डब्ल्यूएचओ ने भी माना है कि कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए जिस भी किसी कीटनाशक का छिड़काव किया जाय ,उसमें क्लोराइड की मात्रा होनी चाहिए। ऐसे में हमने सोडियम हाइपो क्लोराइड एवं ब्र्लींचग पाउडर का चयन किया है। प्रत्येक वार्ड को कम से कम 5-5 स्प्रे मशीनें दी जाएंगी। अभी तक चार अंचलों-सिटी, अजीमाबाद, कंकड़बाग एवं बांकीपुर में 3-3 एवं पाटलिपुत्र, नूतन राजधानी अंचल में 2-2 स्प्रे मशीनें दी गई हैं। 

मलिन बस्तियों में भी हो रहा छिड़काव
शहर के वार्डों की गलियों में दवा छिड़काव से पहले नगर निगम ने उन मलिन बस्तियों में ब्र्लींचग एवं सोडियम हाईपो क्लोराइड के घोल का छिड़काव करवाया, जहां संक्रमण की अधिक संभावना बनी रहती है। इस दिशा में बुधवार को शहर की कुल 110 मलिन बस्तियों में दवा का छिड़काव किया गया। इसके अलावा शहर के प्रमुख बाजार, सड़क और भीड़-भाड़ वाले स्थानों पर निगम की सुपर शकर और र्जेंटग मशीन से कीटनाशक का छिड़काव हुआ।

ये है निगम की तैयारी
नगर आयुक्त ने सभी अंचलों को निर्देशित किया है कि चिन्हित बाजार, मलिन बस्ती और सार्वजनिक स्थलों पर दवा छिड़काव के बाद हर वार्ड के मोहल्लों में सेक्टर वाइज कीटनाशक का छिड़काव किया जाय। पहले से सेक्टर वार बटे वार्डों में तैनात 5-5 उन्हीं कर्मचारियों के माध्यम से दवा छिड़काव भी करवाया जाए, जो अभी तक सिर्फ कचरा उठाव का काम कर रहे थे। दवा छिड़काव के लिए हर वार्ड के सफाई निरीक्षक के लिए 2 दिन का समय निर्धारित किया गया है। 

दो संदिग्धों में कोरोना की पुष्टि
कोरोना का दायरा बढ़ता जा रहा है। बुधवार को दो मरीजों में कोरोना की पुष्टि हुई है। दोनों मुंगेर के रहने वाले हैं। दोनों संक्रमित सैफ के करीबी बताए जा रहे हैं। सैफ कोरोना से पीड़ित था और एम्स में इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई थी। बुधवार को जिन दोनों मरीजों की रिपोर्ट में पॉजिटिव पाई गई है, उनका नमूना मुंगेर के सिविल सर्जन के माध्यम से आरएमआरआई पटना भेजा गया था। दोनों पॉजिटिव मरीज सैफ अली के शव को दफनाने तक साथ थे।

कोरोना अपडेट
- बुधवार को आरएमआरआई से 90 नमूनों की रिपोर्ट आई, जिनमें दो पॉजिटिव और 88 निगेटिव निकले।
- पटना एम्स में एक किशोर की आईसोलेशन वार्ड में हुई मौत, परिजनों को नहीं दिया गया शव, रिपोर्ट का इंतजार
- आईजीआईएमएस से मंगलवार को भेजे गये 8 लोगों के सैंपल निगेटिव आये हैं, इनमें 7 सरकारी कर्मचारी थे।
- लॉक डाउन के दौरान राज्य में खुली रहेंगी खाद, कीटनाशक और बीज की दुकानें।

शहर के मुख्य बाजार, मलिन बस्तियों से लेकर वार्डों की हर गली में कीटनाशक का छिड़काव किया जाएगा। हमारी कोशिश है कि जो भी दवा का छिड़काव हो, उसमें क्लोरीन की मात्रा पाई जाती हो। 
-हिमांशु शर्मा, नगर आयुक्त नगर  निगम पटना

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Every street in patna will be sanitized to prevent corona infection