ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News बिहारएक विधायक वाला भी सीएम बन सकता है, तो मांझी के पास 4 हैं; मुकेश सहनी ने नीतीश से कर दी बड़ी मांग

एक विधायक वाला भी सीएम बन सकता है, तो मांझी के पास 4 हैं; मुकेश सहनी ने नीतीश से कर दी बड़ी मांग

वीआईपी चीफ मुकेश सहनी ने कहा कि जीतनराम मांझी दलित समाज से आते हैं और उनका मुख्यमंत्री पद पर अनुभव भी है। उनके पास तो चार विधायक हैं, झारखंड में एक विधायक वाले मधु कोड़ा भी सीएम बने थे।

एक विधायक वाला भी सीएम बन सकता है, तो मांझी के पास 4 हैं; मुकेश सहनी ने नीतीश से कर दी बड़ी मांग
Jayesh Jetawatहिन्दुस्तान,पटनाSat, 03 Feb 2024 07:48 PM
ऐप पर पढ़ें

विकासशील इंसान पार्टी (वीआईपी) के प्रमुख और मुकेश सहनी ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से जीतनराम मांझी को बिहार का सीएम बनाने की मांग कर दी। सहनी ने शनिवार को कहा कि हिंदुस्तान आवाम मोर्चा (HAM) को दो मंत्री पद ही नहीं मिले बल्कि मांझी को मुख्यमंत्री भी बनाया जाना चाहिए। नीतीश कुमार पहले भी उन्हें सीएम बना चुके हैं। उन्होंने आगामी लोकसभा चुनाव में गठबंधन को लेकर भी बड़ा बयान दिया। मुकेश सहनी ने कहा कि आगामी चुनाव में उनकी पार्टी वीआईपी किसी न किसी गठबंधन में रहकर ही चुनाव लड़ेगी। हालांकि, वह एनडीए या महागठबंधन में से किसमें जाएंगे, इस बारे में उन्होंने खुलासा नहीं किया है।

मुकेश सहनी ने पूर्व सीएम जीतनराम मांझी की उस मांग का समर्थन किया है, जिसमें उन्होंने HAM से दो मंत्री पद बनाने की बात कही। सहनी ने शनिवार को मीडिया से बातचीत में कहा कि मांझी दलित समाज से आते हैं और उनका मुख्यमंत्री पद पर अनुभव भी है। उनके पास तो चार विधायक हैं, हमे यह नहीं भूलना चाहिए कि झारखंड में एक विधायक वाले मधु कोड़ा मुख्यमंत्री बने थे। उन्होंने साफ लहजे में कहा कि इधर आए या उधर जाएं मांझी को सीएम बनना चाहिए। 

लोकसभा चुनाव से जुड़े सवाल में मुकेश सहनी ने कहा कि मुजफ्फरपुर निषादों की राजधानी है। उनकी पार्टी वीआईपी मुजफ्फरपुर ही नहीं बल्कि पूरे बिहार में चुनाव लड़ेगी। उन्होंने साफ किया कि वीआईपी अकेले नहीं किसी गठबंधन से ही चुनाव मैदान में उतरेगी। 

मुझे तो CM बनाया जा रहा था, अब अन्याय तो मत करो; मांझी बनाने लगे नीतीश पर दबाव

मुकेश सहनी ने कहा कि उनकी प्राथमिकता सांसद का चुनाव जीतना नहीं बल्कि निषादों के अधिकार उनको मिले, यह प्राथमिकता है। उन्होंने आगे कहा कि मुजफ्फरपुर से एनडीए हो या महागठबंधन हो, निषाद समाज को ही चुनाव मैदान में उतारेगी। यह अच्छा है कि कोई निषाद ही यहां से चुनाव जीतेगा। उन्होंने कहा कि आज मुजफ्फरपुर में सभा हुई है। हजारों लोगों की भीड़ हुई। सभी ने आरक्षण की लड़ाई लड़ने के लिए साथ देने का संकल्प लिया।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें