ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहारपूरा बिहार हमारा परिवार, रोजगार मतलब नीतीश कुमार; निश्चय रथ पर सवार हो रोड शो पर निकले सीएम

पूरा बिहार हमारा परिवार, रोजगार मतलब नीतीश कुमार; निश्चय रथ पर सवार हो रोड शो पर निकले सीएम

शुक्रवार से नीतीश कुमार पूरी तरह चुनावी मोड में आ रहे हैं। एनडीए को बिहार की सभी 40 सीटों पर जीत दिलाने और पीएम नरेंद्र मोदी के 400 पर के नारे को साकार करने के लिए CM ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है।

पूरा बिहार हमारा परिवार, रोजगार मतलब नीतीश कुमार; निश्चय रथ पर सवार हो रोड शो पर निकले सीएम
Sudhir Kumarलाइव हिन्दुस्तान,पटनाFri, 12 Apr 2024 12:19 PM
ऐप पर पढ़ें

सीएम नीतीश कुमार  शुक्रवार को नवादा में रोड शो कर रहे हैं। भाजपा प्रत्याशी विवेक ठाकुर को जीत दिलाने के लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पहली बार बस से रोड शो में शामिल हो रहे हैं। इसके लिए खास प्रकार से बस पर रथ डिजाइन किया गया है जिससे नीतीश कुमार नवादा समेत अन्य लोकसभा क्षेत्रों  में रोड शो करेंगे।  सीएम इसी बस पर सवार होकर पटना से निकल चुके हैं। इस रथ पर बिहार सरकार की उपलब्धियां की चर्चा की गई है।  बस पर  एक ओर लिखा है- रोजगार मतलब नीतीश कुमार तो दूसरी ओर लिखा है पूरा बिहार हमारा परिवार। रथ का नाम निश्चय रथ रखा गया है। लोकसभा चुनाव 2024 के पहले चरण में 19 अप्रैल को नवादा में चुनाव होने वाले हैं।

शुक्रवार से नीतीश कुमार पूरी तरह चुनावी मोड में आ गए हैं। एनडीए को बिहार की सभी 40 सीटों पर जीत दिलाने और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 400 पर के नारे को साकार करने के लिए मुख्यमंत्री ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। इसके तहत विभिन्न लोकसभा क्षेत्रों में नीतीश कुमार रोड शो कर लोगों से एनडीए के पक्ष में मतदान करने की अपील करेंगे। इसकी शुरुआत नवादा से की गयी है। एक खास तरीके से तैयार निश्चय रथ पर सवार होकर नीतीश कुमार नवादा में लोगों के बीच रोड शो के माध्यम से पहुंच रहे हैं।  बस पर एक और लिखा गया है-  रोजगार मतलब नीतीश कुमार तो दूसरी ओर लिखा गया है- पूरा बिहार हमारा परिवार। वहीं बस के पीछे लिखा स्लोगन है-  सेवा हमारा धर्म।  इस बस का नाम दिया गया है निश्चय रथ। इस रथ के माध्यम से जेडीयू ने तेजस्वी यादव के उस दावे का जवाब दिया है जिसमें राजद नेता कहते हैं कि 17 महीने की सरकार में लाखों लोगों को हमने नौकरी दी।

दरअसल लोकसभा चुनाव 2024 में परिवारवाद का मुद्दा गर्म है। महागठबंधन के दलों में परिवारवाद पर हमला करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने देश की 140 करोड़ जनता को अपना परिवार बता दिया। उसके बाद बिहार सीएम नीतीश कुमार पूरा बिहार मेरा परिवार का स्लोगन लेकर प्रचार अभियान में उतर गए हैं। हालांकि नीतीश कुमार पूर्व में लालू यादव पर हमला करते हुए पूरे बिहार को अपना परिवार बताने की बात कह चुके हैं। नीतीश कुमार कहते थे कि कुछ लोग बेटा बेटी और पत्नी को अपना परिवार मानते हैं जबकि हम लोगों के लिए पूरा बिहार एक परिवार है।

एनडीए की सीट शेयरिंग में नवादा बीजेपी के खाते में गई है। भाजपा ने पद्मश्री सीपी ठाकुर के बेटे विवेक ठाकुर को नवादा के मैदान में उतारा है। भूमिहार बहुल नवादा में विवेक ठाकुर की जीत का दावा किया जा रहा है हालांकि नवादा में वोट की  बहुलता में कुशवाहा समाज भी काफी आगे है। इसे देखते हुए महागठबंधन से श्रवण कुशवाहा को उतारा गया है। श्रवण कुशवाहा राजद के कैंडिडेट हैं तेजस्वी यादव ने अपने उम्मीदवार की जीत के लिए क्षेत्र में जमकर पसीना बहा रहे हैं।  

इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नवादा में जनसभा कर चुके हैं। पीएम के मंच पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी मौजूद थे। यह सीट पहले रामविलास पासवान की एलजेपी के खाते में थी। 2019 में यहां से सूरजभान के छोटे भाई चंदन कुमार ने जीत दर्ज की थी। इस बार लोजपा रामविलास से यह सीट वापस लेकर भाजपा को दे दी गई।

दरअसल लोकसभा चुनाव 2024 में परिवारवाद का मुद्दा गर्म है। महागठबंधन के दलों में परिवारवाद पर हमला करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने देश की 140 करोड़ जनता को अपना परिवार बता दिया। उसके बाद बिहार सीएम नीतीश कुमार पूरा बिहार मेरा परिवार का स्लोगन लेकर प्रचार अभियान में उतर गए हैं। हालांकि नीतीश कुमार पूर्व में लालू यादव पर हमला करते हुए पूरे बिहार को अपना परिवार बताने की बात कह चुके हैं। नीतीश कुमार कहते थे कि कुछ लोग बेटा बेटी और पत्नी को अपना परिवार मानते हैं जबकि हम लोगों के लिए पूरा बिहार एक परिवार है।

एनडीए की सीट शेयरिंग में नवादा बीजेपी के खाते में गई है। भाजपा ने पद्मश्री सीपी ठाकुर के बेटे विवेक ठाकुर को नवादा के मैदान में उतारा है। भूमिहार बहुल नवादा में विवेक ठाकुर की जीत का दावा किया जा रहा है हालांकि नवादा में वोट की  बहुलता में कुशवाहा समाज भी काफी आगे है। इसे देखते हुए महागठबंधन से श्रवण कुशवाहा को उतारा गया है। श्रवण कुशवाहा राजद के कैंडिडेट हैं तेजस्वी यादव ने अपने उम्मीदवार की जीत के लिए क्षेत्र में जमकर पसीना बहा रहे हैं।  

इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नवादा में जनसभा कर चुके हैं। पीएम के मंच पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी मौजूद थे। यह सीट पहले रामविलास पासवान की एलजेपी के खाते में थी। 2019 में यहां से सूरजभान के छोटे भाई चंदन कुमार ने जीत दर्ज की थी। इस बार लोजपा रामविलास से यह सीट वापस लेकर भाजपा को दे दी गई।