ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News बिहारकेके पाठक पर भड़के शिक्षा मंत्री चंद्रशेखर, बोले- मौलिक अधिकारों पर चोट करने वाले की दुर्गति होगी

केके पाठक पर भड़के शिक्षा मंत्री चंद्रशेखर, बोले- मौलिक अधिकारों पर चोट करने वाले की दुर्गति होगी

एसीएस केके पाठक द्वारा शिक्षकों पर लगाई गई पाबंदी पर शिक्षा मंत्री चंद्रशेखर ने कहा कि मौलिक अधिकारों पर चोट करने वाले व्यक्ति की दुर्गति तय है।

केके पाठक पर भड़के शिक्षा मंत्री चंद्रशेखर, बोले- मौलिक अधिकारों पर चोट करने वाले की दुर्गति होगी
Jayesh Jetawatहिन्दुस्तान,जहानाबादSat, 02 Dec 2023 07:27 PM
ऐप पर पढ़ें

बिहार के शिक्षा मंत्री चंद्रशेखर ने अपने ही विभाग के अपर मुख्य सचिव केके पाठक पर एक बार फिर निशाना साधा है। केके पाठक के फैसलों और आदेशों पर सवाल उठाते हुए चंद्रशेखर ने कहा कि मौलिक अधिकारों पर चोट करने वालों की दुर्गति होगी। दरअसल, एसीएस के निर्देश पर शिक्षा विभाग ने शिक्षक संघों के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी है। साथ ही शिक्षकों को सरकार के खिलाफ सार्वजनिक रूप से किसी भी तरह की बयानबाजी करने से भी रोक दिया है। 

शिक्षा मंत्री चंद्रशेखर शनिवार को जहानाबाद जिले के लोदीपुर में मध्य विद्यालय के नए भवन का उद्घाटन किया। इस दौरान मीडिया से बातचीत में उन्होंने कहा कि मौलिक अधिकारों का हनन करने वाले व्यक्ति की दुर्गति तय है। पत्रकारों ने पूछा कि केके पाठक के बयान और निर्देशों से शिक्षकों में रोष है, तो मंत्री ने कहा कि संविधान प्रदत्त मौलिक अधिकार का हक सभी को है। 

चंद्रशेखऱ ने आगे कहा कि चाहे प्रधानमंत्री हो या कोई अन्य व्यक्ति, किसी को भी संविधान प्रदत मौलिक अधिकारों के हनन का अधिकार नहीं है। हालांकि, उन्होंने एसीएस केके पाठक से किसी भी तरह के मतभेद से इनकार कर दिया। उन्होंने कहा कि वे शिक्षा विभाग के मंत्री हैं और पाठक इसके अपर मुख्य सचिव हैं। 

शिक्षक शाम पांच बजे बाद ही कर सकेंगे ये काम, केके पाठक का आदेश

मंत्री ने कहा कि शिक्षा विभाग में काफी तेजी से नियुक्तियां हो रही हैं। एक महीने में फिर से शिक्षकों की बहाली कर दी जाएगी। उन्होंने केके पाठक के कामों की तारीफ भी की और कहा कि शैक्षणिक संस्थानों में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के लिए अगर कोई कदम उठ रहा है तो सभी को इसका समर्थन करना चाहिए। 

शिक्षा मंत्री ने स्कूलों में सुबह 9:00 बजे से 5:00 बजे तक शिक्षकों की उपस्थिति के निर्देश को भी सही ठहराया है। उन्होंने कहा कि शिक्षकों को आवास की सुविधा दिलाने की पहल हो रही है। पदस्थापना में जो भी थोड़ी बहुत गड़बड़ी हुई है उसे जल्द ही दुरुस्त किया जाएगा। 
 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें