ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News बिहारबिजली बिल से करें कमाई! स्मार्ट मीटर के एडवांस रिचार्ज पर मिलेगा बैंकों से ज्यादा ब्याज, जानें नई स्कीम

बिजली बिल से करें कमाई! स्मार्ट मीटर के एडवांस रिचार्ज पर मिलेगा बैंकों से ज्यादा ब्याज, जानें नई स्कीम

बिहार के बिजली उपभोक्ता अब अपने स्मार्ट मीटर में एडवांस रिचार्ज कराकर कमाई कर सकते हैं। ग्राहकों को बैंक के बचत खाते से ज्यादा ब्याज दर दी जाएगी।

बिजली बिल से करें कमाई! स्मार्ट मीटर के एडवांस रिचार्ज पर मिलेगा बैंकों से ज्यादा ब्याज, जानें नई स्कीम
Jayesh Jetawatहिन्दुस्तान,पटनाFri, 23 Feb 2024 10:33 PM
ऐप पर पढ़ें

बिहार में बिजली वितरण कंपनियां अब अपने उपभोक्ताओं को बैंकों से ज्यादा दरों पर ब्याज देगी। बिजली वितरण कंपनियों ने शुक्रवार को यह घोषणा की है। यह सुविधा ग्राहकों को स्मार्ट मीटर में एडवांस पैसा जमा करने पर मिलेगी। अगर ग्राहक अपने स्मार्ट मीटर में 2000 रुपये से अधिक का रिचार्ज कराएंगे तो उसपर बैंक से ज्यादा दर पर ब्याज दिया जाएगा। यानी कि ब्याज लेने के लिए उपभोक्ताओं को कम से कम दो हजार का रिचार्ज कराना होगा।

कंपनी के अनुसार जो उपभोक्ता 2000 रुपये से अधिक का रिचार्ज करेंगे और कम से कम तीन महीने की बिजली खपत के बराबर रिचार्ज करेंगे तो उन्हें 6.75 प्रतिशत की दर से ब्याज प्रदान किया जाएगा। ऐसे उपभोक्ता जो तीन महीने से लेकर छह महीने की अवधि का एकमुश्त रिचार्ज करते हैं, उन्हें उस राशि पर 7 प्रतिशत की दर से ब्याज प्रदान किया जाएगा। जबकि छह महीने से अधिक की अवधि का एकमुश्त रिचार्ज कराने वाले उपभोक्ताओं को 7.25 प्रतिशत की दर से ब्याज दिया जायेगा। 

ऊर्जा मंत्री बिजेंद्र प्रसाद यादव ने इस घोषणा की प्रशंसा करते हुए कहा कि इस योजना से उपभोक्ता रिचार्ज खत्म होने से पहले एकमुश्त रिचार्ज कराएंगे। इससे उपभोक्ताओं के साथ ही वितरण कंपनियों को भी फायदा होगा। जहां उपभोक्ताओं को एकमुश्त में स्मार्ट मीटर रिचार्ज करने पर प्रोत्साहन ब्याज की राशि मिलेगी। वहीं दोनों वितरण कंपनियों को राजस्व संग्रहण में मदद मिलेगी।

बिजली कंपनी के सीएमडी संजीव हंस ने कहा कि यह फैसला उपभोक्ताओं की सहूलियत के लिए लिया गया है। राज्य में उपभोक्ताओं ने जिस प्रकार से स्मार्ट मीटर इंस्टालेशन में अपना सहयोग दिया है, ब्याज दर की घोषणा निश्चित ही उनके लिए एक सौगात की तरह है। एक ओर जहां उपभोक्ताओं को बार-बार मीटर रिचार्ज से मुक्ति मिलेगी, वहीं वितरण कंपनियों को उपभोक्ताओं की ऊर्जा खपत को समझने और बेहतर सेवा प्रदान करने का अवसर मिलेगा। 

सीएमडी ने कहा कि इस घोषणा से न सिर्फ मौजूदा स्मार्ट मीटर उपभोक्ताओं को फायदा होगा बल्कि जिन ग्रामीण इलाकों में स्मार्ट मीटर इंस्टालेशन का कार्य चल रहा है, वहां नए उपभोक्तागण भी प्रेरित होंगे। इससे मीटर इंस्टालेशन में तेजी आएगी और राजस्व संग्रहण में भी आसानी होगी। उन्होंने कहा कि बिहार 28 लाख स्मार्ट मीटर इंस्टालेशन के साथ पूरे देश में सबसे आगे है और इस अनोखे पहल से निश्चित ही राज्य पूरे देश में एक मिसाल पेश करेगा। यह पहल लोगों को अपनी बिजली खपत पर भी नियंत्रण करने की दिशा में प्रोत्साहित करेगा। 

गौरतलब है कि स्मार्ट प्रीपेड मीटर उपभोक्ताओं को बैलेंस खत्म होने से पहले रिचार्ज करने पर दो प्रतिशत और ऑनलाइन रिचार्ज करने पर अतिरिक्त एक प्रतिशत की विशेष छूट मिलती है, जो आगे भी जारी रहेगी।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें