ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहारघर बैठे करें लाखों की कमाई; ऐसे लुभावने वादों से बचें, क्रिप्टो करेंसी का झांसा दे साइबर फ्रॉड ने ठगे 33 लाख

घर बैठे करें लाखों की कमाई; ऐसे लुभावने वादों से बचें, क्रिप्टो करेंसी का झांसा दे साइबर फ्रॉड ने ठगे 33 लाख

झांसे में आकर पीड़ित ने अपना और अपने दोस्तों से रुपये मांग 18 लाख रुपये ठगों को भेज दिए। राजीव नगर निवासी एक शख्स ने सोशल मीडिया पर क्रिप्टो करेंसी का विज्ञापन देखा था और उसमें फंस गया।

घर बैठे करें लाखों की कमाई; ऐसे लुभावने वादों से बचें,  क्रिप्टो करेंसी का झांसा दे साइबर फ्रॉड ने ठगे 33 लाख
Sudhir Kumarहिन्दुस्तान,पटनाSat, 22 Jun 2024 07:05 AM
ऐप पर पढ़ें

साइबर ठगों ने क्रिप्टो करेंसी में निवेश और घर बैठे कमाई का झांसा देकर दो लोगों से 33 लाख रुपये ठग लिए। वहीं, बेटी को कब्जे और भाई की गिरफ्तारी समेत अलग-अलग बहाने से कुल नौ लोगों को 42 लाख का चूना लगा दिया। पीड़ितों की शिकायत पर साइबर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है। शास्त्री नगर के इंद्रपुरी में रहने वाले व्यक्ति के पास बीते दिनों घर बैठे कमाई का एक मैसेज आया था। वे साइबर ठगों के झांसे में आ गए। बाद में शातिरों ने भारी मुनाफा के नाम पर कंपनी में निवेश का सब्जबाग दिखाया।

झांसे में आकर पीड़ित ने अपना और अपने दोस्तों से रुपये मांग 18 लाख रुपये ठगों को भेज दिए। राजीव नगर निवासी एक शख्स ने सोशल मीडिया पर क्रिप्टो करेंसी का विज्ञापन देखा था। फोन करने पर शातिरों ने उन्हें एक व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ लिया। ट्रेनिंग और निवेश के नाम पर उनसे 15 लाख 44 हजार रुपये की ठगी कर ली गई। मिथिला कॉलोनी में रहने वाला परिवार ने दार्जलिंग जाने के लिए ऑनलाइन होटल की बुकिंग कराई थी। उनके 22 हजार 560 रुपये हड़प लिए।

हनुमान नगर निवासी और उनके परिवार के चार सदस्यों के खाते से 2.40 लाख रुपये उड़ा लिए। पीड़ित ने बताया कि रुपये की निकासी के संबंध में ना तो उनके पास कोई ओटीपी और ना ही मैसेज आया। वहीं साइबर ठग ने खुद को मुंबई क्राइम ब्रांच का अधिकारी बता कदमकुआं निवासी व्यक्ति को फोन किया। कहा कि उनके आईडी से अवैध कारोबार किया जा रहा है। गिरफ्तारी का डर दिखा दो लाख 30 हजार की चपत लगा दी। आवासीय पता की जांच के बहाने दानापुर निवासी से दो लाख 60 हजार की ठगी कर ली।

जेल भेजने के नाम पर की ठगी रुपसपुर निवासी शख्स का भाई दिल्ली में पढ़ता है। शातिरों ने फोन कर बताया कि उनका भाई हथियार के साथ पकड़ा गया है। भाई को जेल जाने से बचाने के लिए ठगों ने उनसे 40 हजार रुपये आनलाइन अपने खाते में स्थानांतरित करवा लिए। कदमकुआं निवासी एक व्यक्ति के पास बीते दिनों एक अंजान नंबर से फोन आया था। उसने बताया कि पीड़ित की बेटी उनके कब्जे में है। युवती को छोड़ने के नाम पर ठगों ने 30 हजार रुपये का चूना लगा दिया। ठगों ने खुद को आर्मी का कर्नल बताकर सामान बेचने के बहाने शास्त्रत्त्ी नगर के पटेल नगर निवासी से 40 हजार रुपये ठग लिए।

बाढ़ में 14 लाख की ठगी

बाढ़ में साइबर ठगों ने एप पर रेटिंग देकर पैसा कमाने का लाचल देकर ग्रामीण से 14 लाख रुपए की ठगी कर ली। ग्रामीण ने रुपए बैंक से लोन लिये थे। बिचली मलाही निवासी कन्हैया सिंह ने केस किया है। उसने बताया कि टेलीग्राम एप पर रेटिंग देकर कमीशन कमाने की भ्रामक जानकारी दी गई। फिर पे अकाउंट बना मेंबर आईडी दी। एप पर रेटिंग देकर कमीशन कमाने की प्रक्रिया शुरू की गई।

साइबर फ्रॉड होने पर तुरंत करें शिकायत

डीएसपी टाउन शुक्रवार को फेसबुक लाइव के माध्यम से लोगों से रूबरू हुए। उन्होंने साइबर अपराध की रोकथाम के लिए लोगों को जागरूक होने के साथ ही अपराध होने पर इसकी शिकायत तुरंत पुलिस में करने की सलाह दी। लोगों को डायल-112 की मदद लेने की अपील की। डीएसपी टाउन-1 अशोक कुमार सिंह ने कहा कि लालच और झांसे में ना आएं। बावजूद इसके यदि साइबर ठगी हो जाती है तो शिकायत जल्द से जल्द पुलिस में करें। शिकायत मिलते ही साइबर ठग के खाते में गए रुपयों को होल्ड करा दिया जाता है।