ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News बिहारबिहार में सिपाही की खौफनाक करतूत, डंडे से मारकर वकील की आंख फोड़ी

बिहार में सिपाही की खौफनाक करतूत, डंडे से मारकर वकील की आंख फोड़ी

बिहार के मुजफ्फरपुर जिले से एक दिल दहला देने वाली खबर सामने आई है। वाहन जांच के दौरान एक सिपाही ने डंडे से मारकर वकील की आंख फोड़ दी। पुलिस सीसीटीवी फुटेज खंगाल जांच में जुट गई है।

बिहार में सिपाही की खौफनाक करतूत, डंडे से मारकर वकील की आंख फोड़ी
Malay Ojhaहिन्दुस्तान,मुजफ्फरपुरThu, 08 Feb 2024 08:42 PM
ऐप पर पढ़ें

मुजफ्फरपुर जिले के माड़ीपुर पावर हाउस चौक पर वाहन जांच के दौरान रोकने के बाद पुलिस ने डंडा मारकर बाइक सवार अधिवक्ता पंकज कुमार की आंख फोड़ दी। बालूघाट मोहल्ला निवासी अधिवक्ता पटना से लौट रहे थे। अधिवक्ता ने काजी मोहम्मदपुर थानेदार के साथ जांच कर रहे पुलिस कर्मियों पर डंडा से मारकर आंख फोड़ देने का आरोप लगाया है। आंख से खून गिरता देख अधिवक्ता को माड़ीपुर में ही छोड़कर सभी पुलिस कर्मी फरार हो गए। 

घायल अधिवक्ता को पहले निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां से एसकेएमसीएच रेफर कर दिया गया। आंख की गंभीर स्थिति को देखते हुए एसकेएमसीएच से पटना आईजीआईएमएस रेफर किया गया है। परिजन उसे शंकर नेत्रालय कोलकाता ले गए हैं। अधिवक्ता ने एसकेएमसीएच ओपी में थानेदार और उनके साथ के पुलिस कर्मियों पर आंख फोड़ने का आरोप लगाते हुए एफआईआर के लिए आवेदन सौंपा है। ओपी अध्यक्ष डॉ. ललन कुमार ने आवेदन काजी मोहम्मदपुर थाना को भेज दिया है। 

अधिवक्ता ने बताया है कि वह पटना से मुजफ्फरपुर लौटे। इस दौरान रात हो गई। इसके बाद शादी समारोह में शामिल होकर आवास जा रहे थे। माड़ीपुर पावर हाउस चौक के पास काजी मोहम्मदपुर थानाध्यक्ष व अन्य पुलिस कर्मी वाहन जांच के लिए खड़े थे। मेरी बाइक को रोका। पूछा कि इतनी रात को कहां से आ रहे हैं? अधिवक्ता ने आरोप लगाया है कि जब तक कुछ बोलता तब तक थानाध्यक्ष ने गाली देते हुए सिपाही को मारने का आदेश दिया। नाटे कद के दुबला पतला सिपाही ने डंडा से आंख पर मार दिया। आंख से खून रिसने लगा। दर्द के मारे चिल्लाने लगा और वहीं पर जमीन पर गिर गया। इसके बाद थानाध्यक्ष और अन्य पुलिस कर्मी मौके से भाग गए। 

अधिवक्ता ने बताया कि परिजनों को सूचना मिलने के बाद उन्हें स्थानीय लोगों की मदद से माड़ीपुर पावर हाउस चौक के पास ही एक निजी अस्पताल ले जाया गया। एक अन्य बड़े निजी अस्पताल में प्राथमिक उपचार के बाद एसकेएमसीएच रेफर कर दिया गया।  इधर, काजी मोहम्मदपुर थानाध्यक्ष मनोज कुमार साह ने कहा कि उन्हें इस घटना की जानकारी नहीं है। वह रात में पुलिस टीम के साथ पावर हाउस चौक पर नहीं गए थे। 

घटना की सूचना नहीं मिली है। पूरे मामले की जांच के लिए पावर हाउस चौक पर लगे सीसीटीवी कैमरे की वरीय अधिकारी जांच करेंगे। रिपोर्ट के आधार पर कार्रवाई की जाएगी। 
: राकेश कुमार, एसएसपी। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें