ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिहारशराबी तो कहते ही थे, अब गुंडे भी कहेंगे लोग: बिहार में शराबबंदी तोड़ने वालों का डोजियर खोल रही पुलिस

शराबी तो कहते ही थे, अब गुंडे भी कहेंगे लोग: बिहार में शराबबंदी तोड़ने वालों का डोजियर खोल रही पुलिस

आदतन शराबबंदी का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ डोजियर भी खोली जा रही है। भागलपुर सहित कई जिलों में इसकी शुरुआत भी हो चुकी है।

शराबी तो कहते ही थे, अब गुंडे भी कहेंगे लोग: बिहार में शराबबंदी तोड़ने वालों का डोजियर खोल रही पुलिस
Jayesh Jetawatहिन्दुस्तान,भागलपुरFri, 30 Sep 2022 06:31 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

बिहार में शराब पीने वाले शराबी तो कहलाते ही थे अब वे गुंडे भी कहे जाएंगे। शराबबंदी कानून का उल्लंघन करने वालों पर और सख्ती बरती   त सभी जिलों को पत्र लिखा है जिसमें बताया है कि मद्यनिषेध का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ ज्यादातर जिलों में कार्रवाई हो रही है जबकि कुछ जिले कार्रवाई में पिछड़ रहे। 

इन जिलों का बेहतर प्रदर्शन 

जुलाई महीने में शराबबंदी का उल्लंघन करने वाले लोगों के खिलाफ हुई कार्रवाई की पुलिस मुख्यालय में समीक्षा की गई। समीक्षा बैठक में पता चला कि गुंडा पंजी में नाम दर्ज करने, डोजियर खोलने और अन्य निरोधात्मक कार्रवाई में भागलपुर, पूर्णिया, बेगूसराय, अरवल, पटना, कटिहार, नवगछिया, बांका, मुंगेर, गोपालगंज, रोहतास, बक्सर, मुजफ्फरपुर, मधेपुरा, दरभंगा आदि जिलों में कार्रवाई हुई है। भागलपुर और आस-पास के कई जिलों में मद्यनिषेध का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ सीसीए का भी प्रस्ताव तैयार किया गया है। 

कानून तोड़ने का डबल क्रेज: एक तो 17 बोतल विदेशी शराब, ऊपर से पिस्तौल से काटा केक, 2 गिरफ्तार

इस महीने में कैमूर, सुपौल, किशनगंज, खगड़िया, शेखपुरा, रेल पटना और रेल जमालपुर जिलों में कार्रवाई नहीं किए जाने की बात सामने आई है। भागलपुर एसएसपी बाबू राम का कहना है कि मद्यनिषेध को लेकर पुलिस कड़ी कार्रवाई कर रही है। शराब का अवैध कारोबार करने और पीने वालों के खिलाफ अभियान चलाया जा रहा है। उनका कहना है कि भागलपुर पुलिस शराब को लेकर झारखंड में कई बार छापेमारी कर चुकी है।

epaper