ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News बिहारमुजफ्फरपुर में दवा व्यवसायी को गोलियों से भूना, पुलिस चौकी से 150 मीटर की दूरी पर मर्डर

मुजफ्फरपुर में दवा व्यवसायी को गोलियों से भूना, पुलिस चौकी से 150 मीटर की दूरी पर मर्डर

मुजफ्फरपुर में दवा व्यवसायी को गोलियों से भून दिया। हमलावरों ने सुनील कुमार को 4 गोलियां मारी। वारदात को उस वक्त अंजाम दिया गया। जब वो शादी समारोह से वापस लौट रहे थे।

मुजफ्फरपुर में दवा व्यवसायी को गोलियों से भूना, पुलिस चौकी से 150 मीटर की दूरी पर मर्डर
Sandeepहिन्दुस्तान टीम,मुजफ्फरपुरFri, 01 Mar 2024 08:43 AM
ऐप पर पढ़ें

मुजफ्फरपुर के मीनापुर के झपहां ओवरब्रिज के पास गुरुवार रात अपराधियों ने मीनापुर के दवा व्यवसायी सुनील कुमार उर्फ श्याम कुमार (40) की गोली मारकर हत्या कर दी। उन्हें सीने में चार गोलियां मारी गई हैं। मीनापुर के धर्मपुर में उनकी दवा दुकान व क्लीनिक है। पुलिस पूरे मामले को सुपारी किलिंग से जोड़ कर देख रही है। परिजनों ने बताया कि सुनील दवा दुकान बंद कर एक विवाह में गए थे।

भोज खाने के बाद वह अहियापुर स्थित घर बाइक से लौट रहे थे तभी झपहां ओवरब्रिज पर बाइक सवार अपराधियों ने उन्हें घेर लिया व सीने में गोली मार दी। ओवरब्रिज पर वह बाइक समेत गिर गए। स्थानीय लोगों ने खून से सने व्यवसायी को देखकर ओपी को सूचित किया। पुलिस एसकेएमसीएच ले गई, जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया।

नगर एएसपी भानू प्रताप सिंह ने बताया कि लूटपाट नहीं हुई है। उनकी बाइक और मोबाइल पास में थे। परिजनों से दुश्मनी के संबंध में जानकारी ली जा रही है। कितनी गोली लगी है यह पोस्टमार्टम के बाद स्पष्ट हो पाएगा। पति की मौत की सूचना पर मेडिकल पहुंची पत्नी रंजी देवी शव देख बेहोश हो गई। दवा व्यवसायी को दो पुत्र और एक पुत्री हैं। वह रामपुर हरि थाना के मोतहां फकीराना के मूल निवासी थे। इन दिनों अहियापुर में मकान बनाकर परिवार के साथ रहे थे।

झपहां आवेरब्रिज के पास गुरुवार रात मीनापुर के दवा व्यवसायी सुनील कुमार की हत्या की सूचना पर मिलने पर मीनापुर विधायक मुन्ना यादव समेत बड़ी संख्या में लोग एसकेएमसीएच पहुंचे। इस दौरान उन्होंने कहा कि घटनास्थल से 100 मीटर की दूरी पर पुलिस की गश्ती जीप खड़ी थी। 150 मीटर की दूरी पर झपहां ओपी स्थित है। बाइक सवार अपराधी ने घेरकर गोली मारी व निकल गए। विधायक ने कहा कि सुनील मिलनसार इंसान थे। उन्होंने एसएसपी से मोबाइल पर बात कर अपराधियों की गिरफ्तारी की मांग की।

ओवरब्रिज पर खून से लथपथ दवा व्यवसायी सुनील चित पड़े थे। उनके सीने पर पर्ची रखी थी। शव के पास पुलिस कर्मियों की तस्वीर भी आई है। पुलिस जब पहुंची तो पर्ची भी खून से सनी हुई थी। छानबीन के लिए पहुंचे एएसपी ने बताया कि पर्ची नहीं देखी गई है। झपहां पुलिस ने भी इससे अनभिज्ञता जताई है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें